पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18476.250.75 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Hina's Husband Of Babupurwa Said, Take Back The FIR Or Else The Daughter Will Not Be Able To Return Alive, The Mother Appealed To The PM, CM And The Ministry Of External Affairs For Help

मोदी जी...अफगानिस्तान से बेटी को वापस करा दीजिए:कानपुर की हिना की मां ने PM-CM को लिखी चिट्‌ठी, उधर... दामाद ने धमकाया, बोला- FIR वापस लो नहीं तो बेटी जिंदा नहीं लौटेगी

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हिना खान अपने पति मो. गनी के साथ। (फाइल फोटो) - Money Bhaskar
हिना खान अपने पति मो. गनी के साथ। (फाइल फोटो)

अफगानिस्तान में फंसी कानपुर की हिना अब तक वतन नहीं लौट सकी है। सोमवार को उसकी समीरूनिशा ने प्रधानमंत्री मोदी, सीएम योगी और विदेश मंत्रालय को चिट्‌ठी लिखकर मदद की गुहार लगाई है। उसने चिट्‌ठी में लिखा है, मोदी जी... मेरी बेटी को वापस बुलवा दीजिए..., अफगानिस्तान में फंसी बेटी के साथ बहुत अत्याचार हो रहा है। पुलिस अफसरों ने भरोसा दिलााया था कि आपकी बेटी लौट आएगी, लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ। अब दामाद ने भी फोन करके धमकी दी है कि अगर एफआईआर वापस नहीं ली तो बेटी भी जिंदा भारत नहीं लौट पाएगी।

समीरून्निशा अपने बेटे के साथ बाबूपुरवा थाने पहुंची
समीरून्निशा अपने बेटे के साथ बाबूपुरवा थाने पहुंची

एक माह पहले दर्ज कराई थी एफआईआर
बगाही बाबूपुरवा की रहने वाली समीरून्निशा की बेटी हिना ने मुंबई में रहने वाले अफगानी नागरिक गनी मोहम्मद से 2013 में प्रेम विवाह किया था। इसके बाद वह उनकी बेटी को लेकर अफगानिस्तान चला गया था। वहां के हालात बिगड़ने पर उसे दूसरे के हाथों बेचकर भारत लौट आया था। मामले की जानकारी होने पर समीरून्निशा ने बाबूपुरवा थाने में दामाद मो. गनी के खिलाफ एक महीने पहले एफआईआर दर्ज कराई थी।
हिना खान मौजूदा समय में अफगानिस्तान के झुरमुट में शरण लिए हुए है। उसके साथ में तीन बच्चे कामरान खान, फारिया खान, फहद खान भी फंसे हुए हैं। हिना ने अपनी मां को बताया था कि अभी भी वहां के हालात ठीक नहीं हैं। तीन बच्चों को लेकर वह अब तक छह ठिकाने बदल चुकी है। अब तीन बच्चों के साथ गुजर-बसर मुश्किल हो रहा है। ससुराल वालों ने पल्ला झाड़ लिया है। अगर वतन वापसी नहीं हुई तो जिंदगी हो जाएगी मुश्किल है।

हिना का पासपोर्ट। उसका विदेश मंत्रालय की सूची में भी नाम है, मगर अभी तक उसकी वतन वापसी नहीं हो सकी है।
हिना का पासपोर्ट। उसका विदेश मंत्रालय की सूची में भी नाम है, मगर अभी तक उसकी वतन वापसी नहीं हो सकी है।

बाबूपुरवा पुलिस ने नहीं की अब तक कोई कार्रवाई
परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने के बाद कोई कार्रवाई नहीं की है। हिना का पति गनी उर्फ नूर उर्फ मोहम्मद ईसा आज भी फरार है। इसके चलते वह हिना के परिवार वालों को लगातार अलग-अलग नंबरों से फोन करके एफआईआर वापस लेने की धमकी दे रहा है। इतना ही नहीं 1.50 लाख देने की मांग करते हुए कहा कि रुपए भेजने पर ही तुम्हारी बेटी का टिकट करा कर वापस भिजवा देंगे। अगर मुझे कुछ हुआ तो वह भी वापस जिंदा नहीं आएगी।

मां बोली...घरों में झाड़ू-पोछा करके परिवार पालती हूं
समीरूनिशा ने कहा, मैं बूढ़ी औरत झाड़ू पोछा करके अपना जीवन यापन करती हूं किराए के मकान में रहती हूं...। मेरे पास इतने पैसे नहीं है कि जिससे मैं अपनी बच्ची और उसके बेटे बेटियों का टिकट करा कर भारत बुलवा भारत बुलवा सकूं। पुलिस अफसरों के साथ ही प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और विदेश मंत्रालय से यह गुजारिश की है।

खबरें और भी हैं...