पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61765.590.75 %
  • NIFTY18477.050.76 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47189-1.48 %
  • SILVER(MCX 1 KG)631020.23 %
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Kanpur Health Department News : According To The Health Department, Not A Single Death Due To Dengue, Investigation Team Constituted, Kursauli Village, Kanpur Commissioner, CDO Kanpur, Dengue, GSVM Medical College, Kanpur

कानपुर के कुरसौली में हुई मौतों की होगी जांच:स्वास्थ्य विभाग का दावा - डेंगू से एक भी जान नहीं गई, बुखार से मरे लोग, मंडलायुक्त ने ग्रामीणों से की बात

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
3 सप्ताह से बुखार के कई मामले सामने आए हैं। अब तक विभिन्न प्रकार के बुखार के कुल 322 मरीज सामने आ चुके हैं। - Money Bhaskar
3 सप्ताह से बुखार के कई मामले सामने आए हैं। अब तक विभिन्न प्रकार के बुखार के कुल 322 मरीज सामने आ चुके हैं।

कानपुर के कुरसौली गांव में होने वाली एक-एक मौत का ऑडिट कराया जाएगा। मौतों की वजह को जानने के लिए उनकी पूरी मेडिकल हिस्ट्री खंगाली जाएगी। उन हॉस्पिटल में भी जांच होगी, जहां मरने से पहले उनका ट्रीटमेंट हुआ था। सोमवार को मंडलायुक्त डा. राज शेखर ने गांव का निरीक्षण किया। पूरे गांव के हालात को देखा और ग्रामीणों से बात की।

CMO ने दिया पूरा ब्योरानिरीक्षण के दौरान CMO ने मंडलायुक्त को पूरा ब्योरा दिया, जिसमें बताया कि 3 सप्ताह से बुखार के कई मामले सामने आए हैं। अब तक विभिन्न प्रकार के बुखार के कुल 322 मरीज सामने आ चुके हैं, जिसमें संदिग्ध 196 मामलों के नमूने डेंगू जांच के लिए भेजे गए हैं।

इसमें 196 नमूनों में से 182 की रिपोर्ट आ चुकी है। 29 मामले डेंगू के पॉजिटिव पाए गए हैं। 29 मामलों में से 26 मरीज पूरी तरह ठीक हो गए हैं। वहीं सीएमओ ने बताया कि डेंगू से एक भी मौत नहीं हुई है। सीएमओ डा. नैपाल सिंह के मुताबिक बीते 2 महीनों में गांव में विभिन्न प्रकार की बीमारियों और बुखार के कारण विभिन्न अस्पतालों में 12 लोगों की मौत हुई है। बताया कि पहले हर रोज करीब 50 से 60 मामले टीम के पास आते थे, लेकिन पिछले एक सप्ताह से करीब 10 से 15 मामले बुखार की शिकायत लेकर जांच के लिए आ रहे हैं।

गांव के हर घर का हो सकता सर्वे
मंडलायुक्त ने CDO डा. महेंद्र कुमार को गांव में पानी के कई सैंपल लेकर नगर निगम से जांच कराने के लिए कहा। ग्रामीण भी लगातार पानी की जांच कराने के लिए कह रहे थे। वहीं, आशा बहुओं की जांच रिपोर्ट से मंडलायुक्त संतुष्ट नहीं थे। कहा कि वैज्ञानिक तरीके से गांव के हर घर का सर्वे कराया जाए। वहीं गांव में किस बुखार यो बीमारी फैली है, इसकी विस्तृत जांच के लिए कमेटी गठित की गई है।

GSVM से टीम की गई गठित
मेडिसिन विभाग से एक विशेष
जन स्वास्थ्य विभाग से एक विशेषज्ञ
माइक्रोबायोलॉजी विभाग से एक विशेषज्ञ।

खबरें और भी हैं...