पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पॉलिटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम के गणित के पेपर में उलझे स्टूडेंट्स:पहले दिन 11 केंद्रों में हुई ए ग्रुप ​डिप्लोमा इंजीनियरिंग परीक्षा, 30 जून तक होंगे एग्जाम

कानपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पॉलिटेक्निक परीक्षा देने आए स्टूडेंट्स का केंद्रों के बाद जमावड़ा लगा रहा - Money Bhaskar
पॉलिटेक्निक परीक्षा देने आए स्टूडेंट्स का केंद्रों के बाद जमावड़ा लगा रहा

सोमवार को शहर के 11 परीक्षा केंद्रों में पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा का आयोजन हुआ। पहले दिन ए ग्रुप ​(डिप्लोमा इंजीनियरिंग) में दा​खिले के लिए परीक्षा हुई। परीक्षा में आए सवालों में गणित के कुछ कठिन सवालों ने छात्रों को परेशान किया। जबकि भौतिक और रसायन विज्ञान के सवालों ने छात्रो को राहत देने का कार्य किया।

8 ग्रुप में होंगे एंट्रेंस एग्जाम

पॉलिटेक्निक की यह परीक्षा 30 जून तक चलेंगी। मंगलवार को ए ग्रुप, बुधवार को ई वन ग्रुप और गुरुवार को ई टू, बी, सी, डी, एफ, जी, एच, आई, के वन और के आठ ग्रुप में दाखिले के लिए परीक्षा होगी।

तीन पालियों में हुई परीक्षा

जिले के नोडल अधिकारी मुकेश चंद्र आनंद ने बताया कि तीन पालियों में परीक्षा संपन्न कराई गई है। कुल 9571 में 7058 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए हैं और 2513 अनुपस्थित रहे हैं।

80 फीसदी जवाब ही दे पाये स्टूडेंट्स

परीक्षा देकर निकले छात्रों ने बताया कि गणित में कुछ सवालों में कैलकुलेशन ज्यादा था और 12वीं के स्तर के थे। वहीं भौतिक विज्ञान में न्यूमेरिकल और थ्योरी के सवाल आसान थे। रसायन विज्ञान के सवालों को हल करने में भी छात्रों को परेशानी नहीं हुई। अधिकतर छात्रों ने 80 प्रतिशत सवालों के ही जवाब दिए। बतातें चले कि प्रवेश परीक्षा को कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (सीबीटी) से कराया जा रहा है। परीक्षा का आयोजन उत्तर प्रदेश संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद (जेईईसीयूपी) द्वारा किया जा रहा है।

गणित के सवालों में उलझें स्टूडेंट्स

जब उस संदर्भ में छात्रों से बात कि गई तो बांदा के सौरभ पाल ने बताया कि गणित के सवालों ने समय ज्यादा लिया। भौतिक विज्ञान में न्यूमेरिकल ट्रिकी थे। कुल मिलाकर पेपर में कठिन और सरल दोनों तरह के सवाल थे। वही महोबा के बृजेश प्रजापति का कहना है कि पेपर में मिले जुले सवाल आए थे। गणित के कुछ सवाल कठिन थे। बाकी भौतिक और रसायन विज्ञान के सवाल मध्यम थे।