पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरथा गांव में 14 अक्टूबर को होगी शोक सभा:भाजपा नेता समेत संगठन के लोग होंगे शामिल; MLA ने दो मिनट मौन कर दी श्रद्धांजलि

घाटमपुर (कानपुर)4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरथा गांव में शोकसभा की बात करते कैबिनेट मंत्री व सांसद।

कानपुर के साढ़ के कोरथा गांव में शनिवार को ट्रैक्टर ट्रॉली पलटने से 26 लोगों की मौत हो गई थी। मंगलवार दोपहर कैबिनेट मंत्री समेत भाजपा नेता गांव पहुंचे। मृतक के परिजनों को मुआवजा की चेक बांटी।उन्होंने ग्रामीणों को बताया कि गांव में शोक सभा आयोजित की जाएगी। जिसमें भाजपा नेताओं समेत संगठन के लोग मौजूद रहेंगे।

कोरथा गांव में 14 अक्टूबर को होगी शोक सभा
कोरथा गांव पहुंचे कैबिनेट मंत्री राकेश सचान ने बातचीत में बताया कि आगामी 14 अक्टूबर को हादसे में मृतकों के लिए एक शोक सभा का आयोजन किया जाएगा। जिसमें मृतकों को श्रद्धांजलि देने के साथ दो मिनट का मौन रखकर उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की जाएगी। इस दौरान यहां पर भाजपा सांसद, विधायक समेत भाजपा नेता और संगठन के कार्यकर्ता मौजूद रहेंगे।

यह भी पढ़ें- कानपुर में ट्रैक्टर-ट्रॉली तालाब में गिरी, 27 की मौत:चंद्रिका देवी के दर्शन करके लौट रहे थे; मृतकों में 14 बच्चे और 13 महिलाएं शामिल

दरगाही लाल पुल का निरीक्षण करते डीएम व एसपी आउटर।
दरगाही लाल पुल का निरीक्षण करते डीएम व एसपी आउटर।

डीएम और एसपी आउटर ने दरगाही लाल पुल का किया निरीक्षण
कोरथा गांव से वापस शहर लौट रहे कानपुर जिलाधिकारी विशाख जी अय्यर और एसपी आउटर ने दरगाही लाल नहर पुल का निरीक्षण किया। यहां पर रविवार रात एक अनियंत्रित कार पुल को टक्कर मारते हुए नगर में जा गिरी थी। वहीं हादसे में कार सवार लोग बाल बाल बच गए थे। इसी बाबत उन्होंने पुल का निरीक्षण किया।

यह भी पढ़ें- कोरथा के 5 परिवारों की कहानी:किसी का पूरा परिवार उजड़ गया, किसी के बेटे का सपना टूटा; अर्थियां उठी तो कंधे कम पड़

यह भी पढ़ें- कानपुर हादसे में मरने वालों के परिवार का दर्द:जिसकी खुशी में शामिल होने गए, उसी ने दिए जख्म; मिला तो छोड़ेंगे नहीं

पुलिस अनाउंसमेंट कर लोडर में यात्रा न करने की कर रही अपील
सड़क हादसे में 26 लोगों की मौत के बाद पुलिस प्रशासन ने ट्रैक्टर ट्रॉली में सवारियों के न जाने की अपील की है। पुलिस प्रशासन ई-रिक्शा में लाउड स्पीकर लगाकर गांव गांव जाकर अनाउंसमेंट करा रहा है। साथ ही हिदायत भी दी कि यदि किसी ने ट्रैक्टर ट्रॉली और लोडर आदि मालवाहक में यात्रा की तो जुर्माना लगाने के साथ ही कार्रवाई की जाएगी।

मुंडन कराने गया था परिवार
कानपुर जिले की घाटमपुर तहसील में गांव है कोरथा। यहां रहने वाले राजू निषाद के बेटे का मुंडन था। उनको उन्नाव के चंद्रिका देवी मंदिर में मुंडन कराना था। वह गांव के करीब 50 लोगों के साथ ट्रैक्टर ट्राली से सुबह मंदिर के लिए आए। यहां मुंडन हुआ। इसके बाद लौट रहे थे। तभी साढ़ तहसील के पास शनिवार रात 50 श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्राली तालाब में गिर गई। हादसे में 26 लोगों की मौत हो गई।

चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। ट्रैक्टर ट्राली में बैठे पुरुष और युवक तो तालाब से निकल आए। लेकिन, महिला और बच्चियां डूब गईं। हादसे में जिन 26 की मौत हुई है, उसमें 13 महिलाएं और 13 पुरुष हैं। पूरी खबर यहां पढ़ें...

दो मिनट का मौन धारण कर मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई।
दो मिनट का मौन धारण कर मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई।

दो मिनट का मौन रखकर दी श्रद्धांजलि
आज घाटमपुर के गुजेला गांव में एक शोक सभा का आयोजन किया गया। इस दौरान बिठूर विधायक अभिजीत सिंह सांगा और उद्यमी मनोज भदौरिया समेत भाजपा कार्यकर्ता भी शामिल रहे। लोगों ने मौन धारण कर मृतकों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। साथ ही घायलों को जल्द स्वस्थ होने की कामना की।

विधायक अभिजित सिंह सांगा ने कहा कि इस दुःख की घड़ी में सरकार मृतक के परिजनों के साथ खड़ी है। उन्हें हर संभव मदद दिलाई जाएगी। इस दौरान ओम बाबू गुप्ता, पंकज पांडेय, रिंकू शर्मा, नरेंद्र सिंह, संजीव माथुर सहित आदि लोग मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...