पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

​​​​​​​कन्नौज...दबंगों से परेशान परिवार का पलायन:पीड़ित बोले - सपा के कार्यकर्ताओं ने खेती हथिया ली, अब घर कब्जाना चाहते हैं

कन्नौज6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कन्नौज में दबंगों के खौफ से एक परिवार पलायन करने को मजबूर हो गया है। पीड़ित परिवार ने गांव में मकान बेचने के लिए बैनर भी लगा दिए हैं। परिवार का कहना है कि 10 साल से गांव के 6 दबंग जमीन पर कब्जा किए हुए हैं। सभी सपा पार्टी के कार्यकर्ता हैं। वो लोग परिवार के लोगों के साथ बुरी तरह मारपीट करते हैं।

पीड़ित ने पुलिस पर भी लापरवाही और दबंगों से मिलीभगत का आरोप लगाया है। पीड़ित का कहना है कि अगर ऐसा ही चलता रहा तो हम लोग पूरे परिवार के साथ मिलकर आत्महत्या कर लेंगे और इसकी जिम्मेदार पुलिस होगी।

दबंग कई बार कर चुके हैं हमला, छिपकर रहता है पूरा परिवार
मामला छिबरामऊ कोतवाली क्षेत्र के काजिहार गांव का है। यहां के निवासी रामनाथ के पास एक 45 फुट लंबा और 11 फुट चौड़ा मकान है। उस घर में उसके 4 बेटे अपने परिवार के साथ रहते थे। आरोप है कि गांव के ही दबंग जर्मन, पन्नालाल, संजू, आनन्द, डेगराज और एक अन्य ने जबरदस्ती इनके खेत पर कब्जा कर लिया।

पीड़ित की माने तो 10 साल से दबंग जमीन पर कब्जा किए हुए हैं, लेकिन पुलिस कोई सुनवाई नहीं करती है। दबंगों से परेशान पूरा परिवार अलग-अलग छिपकर दूसरे जिलों में रह रहा है। गांव में बस तीसरे नंबर का भाई नीरज रह रहा है। दबंगों ने खेतों पर तो कब्जा कर ही लिया है, लेकिन अब वो लोग घर पर भी कब्जा करना चाहते हैं।

परेशान होकर नीरज भी अब घर बेचकर पलायन की बात कर रहा है। कई बार नीरज और उसके भाइयों पर दबंग जानलेवा हमला कर चुके हैं। 5 अक्टूबर को भी दबंगों ने सीने पर हमला करके उसको घायल कर दिया था।

परिवार मजबूरी में घर बेच रहा।
परिवार मजबूरी में घर बेच रहा।

सपा के कार्यकर्ता हैं दबंग, शिकायत पर पीटा
नीरज ने बताया कि उसने सीएम को भी पत्र लिखा था, लेकिन कोई भी कार्रवाई नहीं हुई है। उसके बाद डीएम से लेकर तहसील दिवस में शिकायत की पर कुछ भी फायदा नहीं हुआ। एक बार तो शिकायत करने पर दबंगों ने उसको पीटा भी था, लेकिन तब भी पुलिस ने दबंगों को गिरफ्तार नहीं किया।

उसने बताया कि दबंग सपा पार्टी के कार्यकर्ता हैं। प्रदेश में जब सपा की सरकार थी, तभी ये लोग गांव के लोगों को ऐसे ही परेशान करते थे। अब सरकार चली गई है, लेकिन इन लोगों की दबंगई कम नहीं हुई है। दबंग उसके परिवार से कहते हैं कि नेता हमारे पक्ष में हैं, ऐसे में पुलिस हमारा क्या ही कर पाएगी?

पीड़ित की माने तो 10 साल से दबंग जमीन पर कब्जा किए हुए हैं, लेकिन पुलिस कोई सुनवाई नहीं करती है।
पीड़ित की माने तो 10 साल से दबंग जमीन पर कब्जा किए हुए हैं, लेकिन पुलिस कोई सुनवाई नहीं करती है।

महिलाओं और बच्चों की करते हैं पिटाई
पीड़ित नीरज ने कहा कि पुलिस अभी भी नहीं जाग रही है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो हम लोग पूरे परिवार के साथ मिलकर आत्महत्या कर लेंगे और इसकी जिम्मेदार पुलिस होगी, जो आंख बंद करके बैठी हुई है। नीरज की पत्नी गंगा देवी ने बताया कि वो लोग हम लोगों को पीटते हैं, हमारे बच्चों को भी मारते हैं। हमारे पास कोई भी सहारा नही है। मजबूरन हम पलायन कर रहे हैं।