पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

कन्नौज...पति की हत्या में पत्नी, प्रेमी और दोस्त को उम्रकैद:6 साल पहले वैलेंटाइन डे के दिन हत्याकांड को दिया था अंजाम, कोर्ट से मिली उम्रकैद

कन्नौज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कन्नौज में पति की हत्या में पत्नी, प्रेमी और दोस्त को उम्रकैद। - Money Bhaskar
कन्नौज में पति की हत्या में पत्नी, प्रेमी और दोस्त को उम्रकैद।

कन्नौज में 6 साल पहले वैलेंटाइन डे पर पति की हत्या करने वाली पत्नी, उसके प्रेमी और दोस्त को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है। कोर्ट ने सभी आरोपियों पर 25-25 हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया है। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

बता दें कि सदर कोतवाली के वाहपुर गांव निवासी श्याम जी (36) की पत्नी पूनम का कानपुर निवासी धर्मवीर कटियार से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। जानकारी होने पर पति श्याम जी ने इसका विरोध किया। इस पर पत्नी पूनम ने प्रेमी धर्मवीर और उसके दोस्त नितिन कुमार निवासी कानपुर देहात के साथ मिलकर 14 फरवरी 2015 वैलेंटाइन डे के दिन श्याम जी को कमरे में बंद कर पीटा और रस्सी से गला दबाकर हत्या कर दी।

पत्नी के प्रेम-संबंध से परेशान था पति

श्याम जी की बहन प्रीती कटियार ने अपनी भाभी पूनम देवी, उसके प्रेमी धर्मवीर और दोस्त नितिन के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बहन प्रीती ने बताया था कि श्याम जी अपनी पत्नी पूनम के प्रेम संबंध के कारण काफी परेशान रहता था। अक्सर इस बात को लेकर दोनों के बीच में कहासुनी भी होती थी। श्याम जी को रास्ते से हटाने के लिए पूनम ने अपने प्रेमी और उसके दोस्त के साथ मिलकर हत्या कर दी। गुमराह करने के लिए पूनम ने आत्महत्या का रूप देने का पूरा प्रयास किया।

हत्या को आत्महत्या का रूप दिया

वादी पक्ष के वकील आनंद किशोर कटियार ने बताया कि पत्नी पूनम ने अपने प्रेमी धर्मवीर और उसके दोस्त नितिन के साथ मिलकर पति श्याम जी की हत्या कर दी और मामले की जानकारी आत्महत्या की दी गई। मुकदमा दर्ज होने के पश्चात कुछ ऐसे सबूत हाथ लगे इससे परतें खुलती चली गईं। पुलिस को खून से सनी शर्ट और रस्सी मिली। कड़ी पूछताछ में आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर दिया। गुरुवार को फास्ट ट्रैक प्रथम के जज मुकेश कुमार द्वितीय ने तीनों दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई। कोर्ट ने तीनों पर 25-25 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया।