पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झांसी में घरेलू कलह के कारण युवक ने लगाई फांसी:4 दिन तक इलाज के बाद मेडिकल कालेज में तोड़ा दम

झांसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ये तस्वीर राजकुमार की है। वह मजदूरी का काम करता था। - Money Bhaskar
ये तस्वीर राजकुमार की है। वह मजदूरी का काम करता था।

झांसी में चार दिन तक इलाज के बाद 25 साल के युवक ने मेडिकल कालेज में दम तोड़ दिया। 22 जून को उसने घरेलू कलह के चलते घर में फांसी लगा ली थी। जिसके बाद परिजनों ने उसे फंदे से उतारकार इलाज के लिए मेडिकल कालेज में भर्ती कराया था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले की जांच जारी है।

सुभाषगंज में करता था मजदूरी

सदर थाना क्षेत्र के भट्‌टागांव के परदेसी मोहल्ला निवासी राजकुमार कुशवाहा (25) सुभाषगंज में मजदूरी करता था। भाई सुनील ने बताया कि 22 जून की सुबह करीब 10 बजे मां कलावती घर के बाहर सफाई कर रही थी। तभी भाई राजकुमार कमरे के अंदर चला गया। उसने दरवाजा बंद करके म्यूजिक सिस्टम ऑन कर लिया। मां को लगा कि वह गाना सुन रहा है। थोड़ी देर बाद मां आई तो दरवाजा बंद मिला। उसने खिड़की से देखा तो साड़ी का फंदा बनाकर फंखे पर लटका था। मां के चिल्लाने पर आसपास के लोग जमा हो गए और राजकुमार को नीचे उतारा। उस समय उसकी सांस चल रही थी। इसके बाद परिजनों ने उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया। रविवार को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

राजकुमार की नहीं हुई थी शादी

सुनील के बताया कि 4 भाई और 3 बहनों में राजकुमार पांचवें नंबर का था। वह थोड़ी गुस्सैल स्वभाव का था। उसकी शादी भी नहीं हुई थी। उसके पिता कैलाश कुशवाहा मोटर बाइडिंग का काम करते हैं। राजकुमार की मौत के बाद घर में मातम पसरा है।