पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आगरा में प्यार, झांसी में शादी और अब मौत:फांसी पर लटकी मिली महिला; पति बोला- मेरी नौकरी नहीं लगने से डिप्रेशन में थी

झांसी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झांसी में एक महिला का फंदे से लटकता शव मिला है। 10 साल पहले उसने लव मैरिज की थी। पति का कहना है कि उसकी नौकरी नहीं लगने की वजह से पत्नी ने यह कदम उठाया है। वहीं मायके वालों ने हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

प्यार, शादी और मौत का यह मामला काफी अलग है। इस कहानी को बताने के लिए हम आपको 12 साल पीछे लेकर चलते हैं।

यह मनीषा की फाइल फोटो है। वह बीएससी पास थी।
यह मनीषा की फाइल फोटो है। वह बीएससी पास थी।

12 साल पहले हुई थी दोनों की मुलाकात
झांसी के प्रेमनगर थाना क्षेत्र के अंबेडकर नगर में 36 साल का जितेंद्र वर्मा रहता है। जितेंद्र ने बताया,"मैंने बी-टेक किया है। बचपन से एक ही सपना था की सरकारी नौकरी करूं। इसके लिए स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद कंप्टीशन की तैयारी में जुट गया। मगर, गांव में सही कोचिंग नहीं थी। इस पर 12 साल पहले यानी 2010 में तैयारी के लिए आगरा चला गया।"

जितेंद्र ने कहा, "उसी कोचिंग में जगदीशपुरा थाना क्षेत्र के लोकेंद्रपुरी की रहने वाली मनीषा भी पढ़ती थी। वह उस समय 21 साल की थी। साथ पढ़ने के दौरान दोनों के बीच दोस्ती हो गई। इसके बाद उनके बीच प्यार हो गया। 2 साल तक चले अफेयर के बाद दोनों ने शादी करने का फैसला किया। इस बारे में घर वालों से बात की। थोड़ी ना-नुकुर के के बाद घर वाले तैयार हो गए।"

पति जितेंद्र वर्मा, जिस पर हत्या का आरोप लगा है।
पति जितेंद्र वर्मा, जिस पर हत्या का आरोप लगा है।

10 साल पहले हुई थी शादी
जितेंद्र ने कहा, "2012 में दोनों की शादी हो गई। उसके दो बच्चे हैं। 8 साल का कृत्यांश और 4 साल का काव्यांश। घर में सब कुछ ठीक था। मगर, अचानक पत्नी ने अपनी जान दे दी।"

पति जितेंद्र वर्मा एक प्राइवेट स्कूल में टीचर है। उसका कहना है, “मनीषा ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। मरने से पहले उसने गांव में मेरी मां को फोन पर कहा कि मेरे बच्चों का ख्याल रखना। उनका कोई नहीं है। अब जीना नहीं है। मैं अपनी जिंदगी से परेशान हूं।”

उसने बताया, “मनीषा काफी डिप्रेशन में थी। जन्म के बाद से दोनों बच्चे बीमार रहते थे। मेरी सरकारी नौकरी भी नहीं लग रही थी। हाल में मैंने लेखपाल का एग्जाम दिया था। आंसर-की जारी हुई, तो नंबर कम थे। इसके बाद वह काफी परेशान हो गई थी।”

मनीषा की यह फोटो उसकी शादी के समय की है।
मनीषा की यह फोटो उसकी शादी के समय की है।

महिला का भाई बोला- पैसे के लिए मार डाला
मृतका मनीषा के भाई प्रदीप कुमार ने बताया, “दोनों परिवारों ने रजामंदी से शादी की थी। लव मैरिज के बावजूद हम लोगों ने मनीषा की शादी में करीब 15 लाख रुपए खर्च किए थे। शादी के 6 महीने बाद ही ससुराल वाले पैसों की डिमांड करने लगे। दो साल से तो मेरी बहन को काफी परेशान किया जा रहा था। कई बार पैसे भी दिए। एक साल पहले ही जितेंद्र ने सरकारी जॉब नहीं लगने पर बिजनेस शुरू करने के लिए 15 लाख रुपए की डिमांड की थी।”

प्रदीप ने बताया, “जितेंद्र वर्मा के पिता ने कल फोन कर बताया कि मनीषा ने फांसी लगा ली है। इसके बाद हम लोग झांसी पहुंचे। मनीषा ने फांसी नहीं लगाई है। उसकी हत्या की गई है।”

प्रेमनगर थाना प्रभारी संजय शुक्ला का कहना है कि घरेलू कलह के चलते मनीषा ने फांसी लगाई है। लड़का कुछ करता नहीं था। हाल में ही लेखपाल का पेपर दिया था। वो भी खराब हो गया था। इसी बात को लेकर मनीषा ने आत्महत्या की है।

खबरें और भी हैं...