पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झांसी में करंट से इकलौते बेटे की मौत:चाची का अंतिम संस्कार करके लौटा था; बिजली पोल से लगा करंट

झांसी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक राघवेंद्र यादव की फाइल फोटो। - Money Bhaskar
मृतक राघवेंद्र यादव की फाइल फोटो।

झांसी के पहलगुवां गांव में करंट लगने से इकलौते बेटे की मौत हो गई। वह चचेरी चाची का अंतिम संस्कार करके लौटा था। हैंडपंप पर नहाकर पैदल घर जाते समय बिजली पोल में आ रहे करंट से झुलस गया। युवक की अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। मामला सीपरी बाजार थाना क्षेत्र का है।

बारिश के कारण आ रहा था करंट
पहलगुवां का रहने वाला 32 साल का राघवेंद्र यादव किसान था। पास के गांव परसर में परिवार की चाची की मौत हो गई थी। रविवार शाम काे अंतिम संस्कार से राघवेंद्र यादव लौटा था। हैंडपंप पर नहाने के बाद वह घर जा रहा था। बारिश के कारण बिजली पोल में करंट आ रहा था। जैसे ही राघवेंद्र पोल के पास से निकला, तो करंट की चपेट में आ गया।

अस्पताल पहुंचने से पहले दम तोड़ा
करंट लगने के बाद राघवेंद्र पोल के पास ही गिर गया। किसी तरह लोगों ने कपड़े से बांधकर उसको खींचा। इसके बाद राघवेंद्र को मेडिकल कॉलेज लाया गया। जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया।

पिता की पहले ही मौत हो चुकी है
राघवेंद्र अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था। छोटी बहन शादीशुदा है। उसके पिता भगवान सिंह यादव की करीब 10 साल पहले बीमारी के चलते मौत हो गई थी। परिवार में राघवेंद्र ही कमाने वाला था। उसके 3 बच्चे हैं। इसमें 9 साल की बेटी बिट्‌टाे, 7 साल का बेटा अन्नू और 4 साल की बेटी पूनम है।