पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झांसी में गैंगस्टर पिता-पुत्रों की 88 करोड़ की संपत्ति कुर्क:बुलेट बाइक, मकान और 4 हेक्टेयर कृषि भूमि जब्त, कार पहले कुर्क हो चुकी थी

झांसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गैंगस्टर एक्ट में पिता-पुत्र का मकान कुर्क करती टीम। - Money Bhaskar
गैंगस्टर एक्ट में पिता-पुत्र का मकान कुर्क करती टीम।

झांसी में पुलिस प्रशासन की संयुक्त टीम ने पिता-पुत्रों पर गैंगस्टर एक्ट में बड़ी कार्रवाई की है। उनकी 88 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति कुर्क की गई है। इसमें बुलेट बाइक, मकान और 4 हेक्टेयर कृषि भूमि शामिल है। इससे पहले पुलिस ने बेटे की ब्रेजा कार जब्त की थी। अभी भी कई गैंगस्टर पुलिस के निशाने पर बने हुए हैं।

पिता-पुत्रों पर दर्ज हुआ था केस

झांसी एसएसपी शिवहरी मीना ने बताया कि मैरी गांव के राजू यादव और उनके बेटे राहुल यादव और एक अन्य यदुवीर यादव के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की धारा 2,3 के तहत केस दर्ज हुआ था। तीनों आरोपी फिलहाल कोतवाली इलाके के बड़ागांव गेट बाहर में रहते हैं। अब डीएम ने तीनों की संपत्ति के संबंध में कुर्की के आदेश जारी किए थे।

गुरुवार शाम को पुलिस व प्रशासन की टीम ने उनकी 88 करोड़ की संपत्ति कुर्क की और मुनादी भी कराई। एसएसपी का कहना है यह संपत्ति तीनों ने अपराध करके अर्जित धन से कमाई है। कुर्क मकान पर नोटिस और कृषि भूमि पर बोर्ड लगाया गया।

कृषि भूमि कुर्क करने की कार्रवाई के दौरान बोर्ड लगाया गया।
कृषि भूमि कुर्क करने की कार्रवाई के दौरान बोर्ड लगाया गया।

ये संपत्ति कुर्क की गई

  • डडियापुरा (हजरयाना) में 616 वर्गफीट जमीन पर बने डबल मंजिला मकान कुर्क किया। जिसकी अनुमानिक कीमत करीब 27,82,350 रुपए है।
  • मैरी गांव में 4.002 हेक्टेयर कृषि भूमि कुर्की की गई। जिसकी अनुमानित कीमत करीब 88,03,74,000 रुपए है।
  • बुलेट बाइक कुर्क की गई। जिसकी अनुमानित कीमत करीब 2 लाख रुपए है।
  • इससे पहले आरोपी राहुल यादव की ब्रेजा कार कुर्क की गई। जिसकी अनुमानिक कीमत करीब 8 लाख रुपए थी।

इस टीम ने की कार्रवाई

जब्तीकरण की कार्रवाई में एसपी सिटी विवेक त्रिपाठी, सीओ सिटी राजेश कुमार राय, नायब तहसीलदार देवेंद्र प्रताप कुमार, नवाबाद थाना प्रभारी निरीक्षक सुधाकर मिश्र, बजरंज चौकी प्रभारी रोहित कुमार, ग्रीन होम सिटी चौकी प्रभारी अंकित राजावत, एसआई मुकेश कुमार सिंह और तहसील सदर के लेखपाल मुक्तेश्वर सिंह शामिल थे।