पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jalaun
  • The Incident Happened 19 Hours Ago, The Robbery Was Done On The Basis Of A Gun From The Petrol Pump Manager, The Accused Are Residents Of Madhya Pradesh

जालौन...पुलिस ने किया 19 लाख की लूट का खुलासा:19 घंटे पहले हुई थी घटना, पेंट्रोल पंप मैनेजर से तमंचे के दम पर की थी लूट, मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं आरोपी

जालौन9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने 7 आरोपियों को किया गिरफ्तार। - Money Bhaskar
पुलिस ने 7 आरोपियों को किया गिरफ्तार।

जालौन में गुरुवार को माधौगढ़ कोतवाली क्षेत्र में पेट्रोल पंप मैनेजर से हुई 19 लाख रुपए की लूट का खुलासा पुलिस ने 19 घंटे में कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में 7 आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। जिनके पास से 19 लाख रुपए भी पुलिस ने बरामद कर लिए हैं। साथ ही आरोपियों के पास से बाइक, तमंचे और लूट में प्रयोग की गई कार को भी बरामद किया गया है।

पुलिस ने कार किया था बरामद

मामले में पुलिस अधीक्षक रवि कुमार ने बताया कि गुरुवार को पेट्रोल पंप मैनेजर दीपक और पम्प का सेल्समेन रुपए जमा करने के लिए माधौगढ़ जा रहे थे। उसी दौरान कार सवार बदमाशों ने बंगरा गोपालपुरा के पास पंप मैनेजर की बाइक में टक्कर मार दी थी। उसके बाद तमंचे के बल पर 19 लाख रुपए की लूट की घटना को अंजाम दिया था।

5 बदमाश मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं

घटना का खुलासा करने के लिए मध्यप्रदेश की पुलिस को भी लगाया गया था। जिसके बाद टीम को कई इनपुट मिले थे। जांच में पुलिस को बदमाशों की कार भी मिली थी। जिसके आधार पर मध्यप्रदेश और जालौन के जंगलों में कांबिंग की गई। पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाले सात बदमाशों को गिरफ्तार किया है। जिसमें 5 बदमाश मध्य प्रदेश के भिंड के रहने वाले हैं, जबकि दो बदमाश जालौन के रहने वाले हैं।

दो आरोपी पेट्रोल पंप पर करते थे काम

पकड़े गए दो बदमाश जालौन में उसी पेट्रोल पंप में गार्ड हैं, जहां के मैनेजर से लूट हुई है। दोनों ने रेकी की थी और पम्प मैनेजर के बारे में अपने साथियों को जानकारी दी थी। एसपी ने बताया कि पकड़े गए बदमाशों में नैतिक यादव पुत्र जैंदल यादव, संजीव कुमार उर्फ संजू नामदेव, राजेश शर्मा उर्फ लला पुत्र रमेश शर्मा, विकास पुत्र गुड्डू, आकाश पुत्र रामअवतार भिंड के गौरमी के रहने वाले हैं। भूरे उर्फ जितेंद्र पुत्र भीकम और भूरे का पुत्र सूरज महोई माधौगढ़ के रहने वाले हैं।

लूट का सामान किया बरामद

एसपी ने बताया कि भूरे उर्फ जितेंद्र पेट्रोल पंप पर गार्ड की नौकरी करता था, जिसने नैतिक को पूरी जानकारी दी थी। उसने नैतिक को बताया कि पंप मैनेजर रुपए लेकर जा रहा है। इसके बाद ही नैतिक ने अपने साथियों के साथ मिलकर इस पूरी वारदात को अंजाम दिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गार्ड की भूमिका के कारण ही इतनी बड़ी घटना को अंजाम दिया गया था। पुलिस ने बदमाशों के पास से 3 अवैध तमंचा, कारतूस फोर्ड फिस्टा गाड़ी, घटना में प्रयुक्त दो मोटरसाइकिल और वादी का मोबाइल भी बरामद किया है।

पेट्रोल पंप मालिक ने दिया पुरस्कार

एसपी ने बताया कि मध्य प्रदेश के भिंड एसपी और ग्वालियर-इंदौर पुलिस के सहयोग से इन सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जा सका है। खुलासा करने वाली टीम को 1 लाख रुपए की धनराशि दी गई है। वहीं 51 हजार का पुरस्कार पेट्रोल पंप मालिक द्वारा भी दिया गया है।

खबरें और भी हैं...