पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

माधौगढ़ में गांव गांव वरासत दर्ज कर बांटी गई खतौनी:किसानों को नहीं लगाने होंगे तहसील के चक्कर, अधिकारियों ने गांव में लगाई चौपाल

माधौगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
माधौगढ़ में गांव गांव वरासत दर्ज कर बांटी गई खतौनी। - Money Bhaskar
माधौगढ़ में गांव गांव वरासत दर्ज कर बांटी गई खतौनी।

अभी तक वरासत दर्ज कराने के लिए किसानों को महीनों तहसील के चक्कर लगाने पड़ते थे। उसके बाद भी अधिकारियों की मनमानी से कई बार किसानों का काम नहीं हो पाता था। लेकिन अब किसानों को राहत मिलेगी। अभियान के तहत वरासत दर्ज कर राजस्व का प्रशासनिक अमला किसानों को गांव में सामूहिक रूप से खतौनी का वितरण करेगा।

इसी अभियान के क्रम में उपजिलाधिकारी पुष्करनाथ चौधरी ने बावली, जायघा गांव में तो तहसीलदार सुशील सिंह ने महुटा गांव में चौपाल लगाकर किसानों के बीच अविवादित मामलों में वरासत दर्ज कर किसानों को खतौनी का वितरण किया। इसके अलावा विवादित मामलों के लिए तहसीलदार के न्यायालय में प्रार्थना पत्र देने की बात कही गई।

एसडीेएम ने गांव में चौपाल लगाकर लोगों को सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी।
एसडीेएम ने गांव में चौपाल लगाकर लोगों को सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी।

ग्रामीणों को चौपाल लगाकर दी गई जानकारी
उपजिलाधिकारी ने शासन द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में चौपाल लगाकर ग्रामीणों को बताया। एसडीएम ने किसानों के हित में चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि जिस किसान को कोई परेशानी हो वह उनके कार्यालय में आकर जानकारी ले और शासन की योजनाओं का लाभ ले सकता है। इस दौरान राजस्व निरीक्षक अभिषेक मिश्रा, शिवम राठौर सहित संबंधित लेखपाल मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...