पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

देवी मां के मंदिर में चोरी:गोलक और कलश को उठा ले गए चोर,  जांच पड़ताल में जुटी पुलिस

कोंचएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जालौन जनपद के कोंच के प्रताप नगर मोहल्ले में स्थित प्राचीन हिंगलाज राजराजेश्वरी मैया के मंदिर में चोरी हुई है। चोर मंदिर से गोलक और कलश को उठा ले गए। बताया जा रहा है कि गोलक मंदिर के बाहर स्थापित था। चोरों मंदिर से सटे हुए एक कमरे की कुंडी काटकर अंदर प्रवेश करते हैं। लेकिन वहां पर उन्हें कुछ मिलता नहीं है, तो वे कलश की उठा ले जाते हैं। मंदिर से 100 कम की दूरी पर एक बाग में गोलक तोड़ते हैं और इसमें रखे हुए रुपये निकाले और रफूचक्कर हो गए।। मंदिर के पुजारी के अनुसार गोलक में तकरीबन 15 से 20 हजार रुपये थे। मामले की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल में जुट गई है।

मामला कोंच के मोहल्ला प्रताप नगर का है। यहां के पुजारी व स्थानीय लोगों के अनुसार, वे लोग रात में 12 बजे तक तो यहीं थे, जिसके बाद ही चोरों ने इस चोरी की घटना को अंजाम दिया। मंदिर के पुजारी रामखिलौने के मुताबिक, अभी नवरात्रि के समय गोलक खाली की गई थी। उसके बाद एक भी रुपया नहीं निकाला। सुबह जब मंदिर के पुजारी रामखिलौने को इस घटना की जानकारी हुई तो वह हक्के-बक्के रह गए। आनन-फानन में कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और पुजारी रामखिलौने व इलाकाई लोगों से बात की व जल्द चोर पकड़े जाने का आश्वासन दिया।

चोरों ने मंदिर से सटे हुए कमरे की कुंडी तोड़ा।
चोरों ने मंदिर से सटे हुए कमरे की कुंडी तोड़ा।

पहले भी दो बार चोरी की घटना को चोर दे चुके अंजाम
इस मंदिर के पुजारी ने बताया कि इस मंदिर में यह चोरी की घटना की तीसरी वारदात है। लगभग एक साल में चोर दो बार इस मंदिर में चोरी कर चुके हैं, जबकि यह चोरी तीसरी चोरी है। पुजारी ने बताया कि पिछले साल चैत्र नवरात्रि के समय चोरों ने मंदिर के कई घंटे उठा ले गए थे, जिनका वजन तकरीबन 80 किलो था, जबकि इसके करीब 6 माह बाद भी चोरों ने मंदिर के घंटों को निशाना बनाया था, तब लगभग 30 किलो के घंटा चोर चुरा ले गए थे। पुजारी ने बताया तब भी पुलिस में चोरों को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया था, लेकिन कुछ भी नहीं हुआ।

रात्रि गश्त की खुल रही पोल
नगर में आए दिन चोरी की घटनाओं ने रात्रि में पुलिस गश्त की पोल खोल दी है। नागरिक भी सवाल उठा रहे हैं कि रात्रि में 12 बजे तक तो लोग जागते ही हैं। मात्र 12 से 4 बजे तक के समय में चोर चोरी की घटना को अंजाम दे देते हैं, ऐसे में पुलिस कहां गश्त करती रहती है?

खबरें और भी हैं...