पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कालपी में वकीलों ने प्रशासन के खिलाफ खोला मोर्चा:SDM, तहसीलदार मुर्दाबाद के लगाए नारे, बोले- नही हुई कार्रवाई तो मोदी योगी तक जाएंगे

कालपी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कालपी के एसडीएम व तहसीलदार को हटाने की मांग ने अब जोर पकड़ लिया है। बार एसोसिएशन कालपी के द्वारा मांगे गये समर्थन में जनपद जालौन के अधिवक्ताओं ने समर्थन देकर अधिवक्ताओं का पक्ष और भी मजबूत कर दिया है। वहीं बार एसोसिएशन कालपी अध्यक्ष एडवोकेट गयादीन अहिरवार पूरे बुंदेलखंड के बार जिलाध्यक्षों से समर्थन मांगने के साथ ही उन्होंने सभी राजनैतिक दलों के प्रमुखों, स्वयंसेवी संगठनों, व्यापारी संगठनों, किसान संगठनों एवं पत्रकारों के संगठनों से भी समर्थन मांगा है।

बार एसोसिएशन कालपी के अध्यक्ष एडवोकेट गया दीन अहिरवार ने संपूर्ण जिले के अधिवक्ताओं द्वारा दिए समर्थन पर आभार जताते हुए समूचे बुंदेलखंड के अधिवक्ताओं के साथ ही विभिन्न संगठनों से भी समर्थन मांगा है। सोमवार को कालपी तहसील के सभी अधिवक्ताओं ने तहसील परिसर में घूम घूम कर उपजिलाधिकारी व तहसीलदार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए एसडीएम तहसीलदार हाय हाय, एसडीएम तहसीलदार होश में आओ व बार एकता जिन्दाबाद के नारे लगाए।

अधिवक्ताओं ने बदसलूकी व न्यायसंगत कार्य न करने का लगाया आरोप

बार संघ कालपी के अधिवक्ताओं के मुताबिक उपजिलाधिकारी व तहसीलदार अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल करते हैं। उन्हें अधिवक्ता बुरे लगते हैं फरियादियों को डांट कर भगा देते हैं, किसी भी प्रकार से जांच कराई जाए तो यह सब स्पष्ट हो जाएगा वह अपनी योग्यता के मद में चूर रहते हैं उनका व्यवहार अमानवीय है। उन्होंने बताया कि अधिवक्ता क्षुब्ध हैं परन्तु संयम बरत रहे हैं और अनुशासन में हैं। परंतु यदि मांगे न मानी गयीं तो विरोध प्रदर्शन बहुत आगे तक जाएगा, जब तक दोनों अफसरों का स्थानांतरण नहीं होता आंदोलन जारी रहेगा।

प्रतिनिधि मंडल पीएम व सीएम को समस्या से अवगत कराएगा

अधिवक्ताओं ने संयुक्त रूप से बताया कि हम सभी अधिवक्ता विगत 17 जून से लगातार क्रमिक अनशन कर रहे हैं परन्तु कोई जिम्मेदार अफसर के कान में जूं तक नहीं रेंग रही है अतः बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के उद्घाटन के मौके पर आ रहे प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री से अधिवक्ताओं का प्रतिनिधिमंडल मिलकर अफसरों की मनमानी को उनके समक्ष रखेगा।

अधिवक्ता संगठनों व राजनैतिक दलों आदि से मांग रहे समर्थन

कालपी नगर के विभिन्न संगठनों में व्यापारी स्वयंसेवी संगठन, किसान संघ, पत्रकारों के संगठन, एवं राजनैतिक संगठन, से भी अधिवक्ताओं के आंदोलन में समर्थन की अपील की गयी है। इस मौके पर पूर्व अध्यक्ष बार संघ दिनेश श्रीवास्तव पूर्व अध्यक्ष अमर सिंह निषाद, देवी निषाद इकबाल अहमद, इस्लाम अहमद, राकेश द्विवेदी, अजय श्रीवास्तव, जय किशोर कुलश्रेष्ठ, सुरेंद्र सिंह, मनोज यादव, किशोर गौरव, मोहम्मद अमीन, सूरत सिंह, वीरेंद्र, गंगा प्रसाद, चंद्रभान विद्यार्थी, हरिश्चंद्र कुलश्रेष्ठ, श्रवन कुमार निगम, प्रताप श्रीवास्तव, रिंकू कुशवाहा ,अखिलेश कुमार, राकेश तिवारी, राजेश कुमार यादव, वरुण प्रताप सिंह, मोती सिंह, महाराज सिंह पाल, सौरभ तिवारी, शीतला शरण, रोहित सिंह, मंगल सिंह, एच प्रसाद सलौनिया, मोहन लाल श्रीवास, विमिलेश कुमार, गंगा प्रसाद, अजय शुक्ला, राम लखन शुक्ला, दिव्य स्वरूप, शैलेन्द्र श्रीवास्तव, भूपेन्द्र लिटौरिया आदि लोग मौजूद रहे।

कांग्रेस ने अधिवक्ताओं की मांगों को ठहराया जायज़

पूर्व विधायक कालपी सुरेंद्र सरसेला से अधिवक्ता एसोसिएशन द्वारा मांगे गए समर्थन को उन्होंने गंभीरता से लेते हुए क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं के साथ अधिवक्ता के समर्थन का एलान कर दिया और वे अपने कार्यकर्ताओं के संग अधिवक्ताओं के साथ धरने पर बैठे, उन्होंने कहा कि हम हर प्रकार से अधिवक्ताओं के साथ है जहां उनकी जरूरत पड़ेगी अपने संग खड़ा पाएंगे।

खबरें और भी हैं...