पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खनन माफियाओं ने नदी में बना डाला रास्ता:बेतवा नदी में खनन कर निकाल रहे मौरंग, कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति

कालपी, जालौन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

खनन माफिया अपनी मनमानी करते हुए बेतवा नदी की जलधारा रोककर खनन कर रहे हैं। हमीरपुर जिले का पट्टा होने के बाद भी जालौन जिले की सीमा से मौरंग निकाली जा रही है। नदी के बीच में अस्थायी सड़क बनाकर मौरंग को जिले की सीमा से बाहर भेजा जा रहा है।

हमीरपुर सीमा के पट्टा संचालक के हौसले बुलंद हैं। वह एनजीटी के नियमों को ताक पर रखकर बेतवा नदी की जलधारा को रोके हुए हैं। पोकलेन मशीनों को लगाकर नदी के बीचों बीच से मौरंग निकाली जा रही है। घाट के आसपास कई अस्थायी कमरे बनाकर उनमें घाट संचालक के गुर्गे रहते हैं जो आसपास किसी को भटकने नहीं देते।

इसकी शिकायत कई बार ग्रामीणों ने खनन अधिकारियों से की, लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। आरोप है कि विभागीय कर्मचारियों की मिलीभगत से अवैध खनन किया जा रहा है।

ठंडे बस्ते में चेकिंग अभियान

खनन की अनियमितता पर खबर प्रकाशित होने पर खनिज, एआरटीओ के साथ अन्य आला अधिकारी हाईवे पर चेकिंग अभियान शुरू कर देते हैं। एक दो दिन के में कुछ ट्रकों को सीज कर और चालान करते अभियान की इतिश्री कर लेते हैं, इसके बाद इन ओवरलोड ट्रकों पर महीनों कार्रवाई नहीं होती है , जिससे यह दिन रात हाईवे पर दौड़ते नजर आते हैं ।