पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिकन्दराराऊ में अतिक्रमण का बोलबाला:स्थाई अतिक्रमण तो टूटे लेकिन अस्थाई वाले अब भी बरकरार

सिकन्दराराऊ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिकन्दराराऊ में अतिक्रमण पर अंकुश लगाने के लिए प्रशासन ने लाख प्रयास किए हैं, लेकिन कुछ लोग अस्थाई अतिक्रमण हटाने को नहीं हैं, जबकि एसडीएम ने स्थाई अतिक्रमण हटवाया है, लेकिन कस्बे के लोग अस्थाई अतिक्रमण को क्यों नहीं हटा रहे हैं।

सिकंदराराऊ प्रशासन द्वारा अतिक्रमण और अंकुश लगाने के लिए लाख प्रयास किए जा रहे हों लेकिन सिकंदराराऊ के लोग अभी भी मानने को तैयार नहीं हैं। जब प्रशासन ने कार्रवाई का भय दिखाया तो स्थाई अतिक्रमण कारी दुकानदारों द्वारा अपने अतिक्रमण तुडवा कर प्रशासन का सहयोग करने की हिम्मत दिखाई गई। वहीं अस्थाई अतिक्रमण करने वाले दुकानदार अभी भी बाज नहीं आ रहे हैं।

उन्होंने प्रशासन को चिढ़ाते हुए अपनी दुकानों के आगे तख्त एवं अन्य सामान लगाना शुरू कर दिया है, जिससे वे लोग पसोपेश में हैं, जिन लोगों ने प्रशासन के कहने पर अपनी दुकानों के आगे से लेंटर तथा सीढ़ियों को तुड़वा दिया। परंतु अब प्रशासन द्वारा अस्थाई अतिक्रमण करने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है, जो बाजार में अतिक्रमण को बढ़ावा देने में जुटे हैं। कुछ दुकानें तो पूरी तरह सड़क पर ही लगी हुई हैं।

उप जिलाधिकारी अंकुर वर्मा का कहना है कि बाजार में किसी भी प्रकार का अतिक्रमण बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, जो लोग अस्थाई अथवा स्थाई किसी भी प्रकार का अतिक्रमण बाजार में अपनी दुकान या मकान के सामने किए हुए हैं। उनके खिलाफ प्रशासन द्वारा उनको चिन्हित करके शीघ्र ही कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...