पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिकन्दराराऊ में डग्गामार बसों पर कार्रवाई:वैध पेपर नहीं दिखा पाये चालक, एसडीएम ने किया पुलिस के हवाले

सिकन्दराराऊएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिकन्दराराऊ के उपजिलाधिकारी ने अवैध रूप से संचालित लंबी दूरी के वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया। जिससे दिल्ली से लखनऊ और बरेली से जयपुर के लिए सिकन्दराराऊ से होकर संचालित हो रही डग्गामार बसों की चेकिंग की। इस दौरान कागजात नहीं मिलने पर 3 बसों को पकड़कर कोतवाली में खड़ा करा दिया। इस कार्रवाई से डग्गामार वाहन संचालकों में हड़कंप मचा है।

यात्रियों को कंफ्यूज करने के लिए बस का बदला कलर
सिकन्दराराऊ होकर दिल्ली से लखनऊ और बरेली से जयपुर के लिए भारी संख्या में डग्गामार बसें संचालित हो रही है। यात्रियों को कंफ्यूज करने के लिए कुछ लोगों ने अपनी बस का कलर रोडवेज की तरह करा दिया है। जिससे सवारियां भ्रमित हो जाती हैं और रोडवेज बस समझकर उनमें चढ़ जाती हैं।

लंबे समय से मिल रही थी शिकायत
इसकी शिकायत एसडीएम अंकुर वर्मा को काफी दिनों से मिल रही थी। ऐसे अवैध संचालकों पर अंकुर वर्मा के द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसके पूर्व भी उनके द्वारा 2 बस को पकड़कर कोतवाली पुलिस के हवाले किया गया था।

वाहन का पेपर चेक करती प्रशासन की टीम
वाहन का पेपर चेक करती प्रशासन की टीम

वैध पेपर नहीं दिखा पाने पर कार्रवाई
सिकन्दराराऊ के पंत चौराहे के पास एसडीएम ने सोमवार को चेकिंग लगाई और बस को रोककर उनके संचालन का वैध पेपर ड्राइवर और कंडक्टर से मांगे। इस दौरान 3 बस के ड्राइवर कोई भी कागज नहीं दिखा पाये। जिसके बाद एसडीएम ने इन बसों को कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया है और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश दिया। अवैध रूप से चल रही बसों के खिलाफ कार्रवाई की सूचना से बस चालकों के बीच हड़कंप मच गया।​​​​​​​

तीन बसों पर की गयी कार्रवाई
सिकन्दराराऊ के उपजिलाधिकारी​​​​​​​ अंकुर वर्मा ने बताया कि अवैध रूप से चल रही बसों पर कार्रवाई की गई है। पकड़ी गई बस चालकों से पेपर मांगे गए तो वह वैध पेपर नही दिखा सके। इसलिए तीन बसों को कोतवाली पुलिस के हवाले कर कार्रवाई के निर्देश दिए गये है। इसके पहले भी दो बसों को पकड़ कर कार्रवाई की गई थी। आगे भी इसी तरह की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...