पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बैठक:ग्रामीण ट्यूबवेल ऑपरेटरों को 4 माह से नहीं मिला वेतन, जताया रोष

शाहाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्रामीण ट्यूबवेल ऑपरेटरों की बैठक शनिवार को पीडब्ल्यूडी यूनियन कार्यालय शाहाबाद में हरियाणा संयुक्त कर्मचारी मंच के ब्रांच प्रधान कुलवंत शर्मा की अध्यक्षता में हुई। बैठक में ग्रामीण ट्यूबवेल ऑपरेटरों को पिछले 4 माह से वेतन न मिलने पर रोष व्यक्त किया। मीटिंग में ब्रांच प्रधान कुलवंत शर्मा ने बताया कि ग्रामीण ट्यूबवेल ऑपरेटर मामूली वेतन पर काम करते हैं। गांवों में जनस्वास्थ्य विभाग के तहत ट्यूबवेल ऑपरेटर लगे हैं, उनका वेतन ग्राम पंचायत के जरिए बीडीपीओ द्वारा जारी किया जाता है।

अप्रैल 2022 से ग्रामीण ट्यूबवेल ऑपरेटरों का वेतन रुका है, जिसके बारे में संगठन कई बार अधिकारियों को लिख चुका है। शर्मा ने कहा कि वेतन न मिलने के कारण सभी ग्रामीण ट्यूबवेल ऑपरेटर और उनके परिजन परेशान हैं।

महंगाई के इस दौर में ऑपरेटर एक-एक पैसे के लिए मोहताज हैं। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सरकार ने जल्द ही ऑपरेटरों के वेतन का भुगतान नहीं कराया, तो मजबूर होकर वे हड़ताल करने को बाध्य होंगे। इसकी पूरी जिम्मेदारी कुरुक्षेत्र जिला प्रशासन की होगी। मीटिंग में ब्लॉक शाहाबाद के प्रधान रणजीत सिंह ने कहा कि हरियाणा सरकार ने कर्मचारियों को जो सुविधाएं दी हैं, उनको जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी कुरुक्षेत्र कार्यालय लागू करने में आना-कानी कर रहा है। इस बैठक में सुशील सैनी, गुरबक्श सिंह, जसपाल सिंह, जसविन्द्र सिंह, हरनेक सिंह, बलवीर सिंह बल्ली, काका राम, रोशन लाल और रविन्द्र कुमार मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...