पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राठ में तीन सदस्यीय टीम ने जमीन की पैमाइश की:बुंदेलखंड विकास निगम झांसी की भूमि पर कब्जा की मिली थी सूचना, 8 करोड़ की है संपत्ति

राठ (हमीरपुर)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राठ कस्बा स्थित कई करोड़ों की बेशकीमती सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा की खबर मिली थी। नवीन गल्ला मंडी के ठीक सामने उत्तर प्रदेश बुंदेलखंड विकास निगम लिमिटेड झांसी की बेशकीमती जमीन पर अवैध कब्जा को लेकर प्रशासन ने संज्ञान लिया है।

आयुक्त झांसी मंडल ने जिलाधिकारी हमीरपुर को पत्र भेजा था। शुक्रवार को लेखपालों की तीन सदस्यीय राठ पहुंची और भूमि की नाप-जोख की।

कई सालों से खाली पड़ी थी जमीन
राठ पनवाड़ी मार्ग स्थित गल्ला मंडी के ठीक सामने करीब दो दशक पूर्व चीनी मिल होता था। चीनी मिल बन्द हो जाने के बाद अब यह जमीन बीते कई सालों से खाली पड़ी है। जिसका फायदा उठाते हुए कुछ लोगों ने यहां कब्जा करते हुए अवैध निर्माण करा लिया है। करीब एक माह पूर्व विभागीय अधिकारियों ने यहां आकर उक्त जमीन की स्थिति से झांसी मंडल के आलाधिकारियों को अवगत कराया था।

जिसके बाद आयुक्त झांसी ने जमीन से अवैध कब्जा मुक्त कराने के संबंध में पत्र भेजा था। उत्तर प्रदेश बुंदेलखंड विकास निगम कार्यालय झांसी के प्रधान लिपिक काशीराम वर्मा ने बताया कि गाटा संख्या 443 क, 447/2 में उनके विभाग की 4 हेक्टेयर भूमि गल्ला मंडी के ठीक सामने नहर बाई पास के किनारे है। इस जमीन के कुछ हिस्से पर अवैध कब्जा दिख रहा है।

डीएम के आदेश के बाद हुई कार्रवाई
एसडीएम पवन प्रकाश पाठक ने लेखपालों की तीन सदस्यीय टीम को इस भूमि की पैमाइश व जांच के लिए भेजा। टीम के साथ झांसी से आए संबंधित विभाग के प्रधान लिपिक भी थे। टीम ने मौके पर जाकर जांच करते हुए नापजोख की। टीम के अनुसार, बुंदेलखंड विकास निगम लिमिटेड झांसी की जमीन पर कोई स्थाई कब्जा नहीं पाया गया। नाप में जमीन पूरी पाई गई है।

उ.प्र. बुंदेलखंड विकास निगम कार्यालय के प्रधान लिपिक कांशीराम वर्मा ने बताया कि वर्तमान में उनका विभाग किसी प्रोजेक्ट को लेकर उस भूमि को खाली कराना चाहता है। बताया कि 03 फरवरी 2010 में सरकारी आंकलन कराने पर भूमि की मालियत 8.90 करोड़ थी। जो अब 12 साल के लंबे अंतराल के बाद कई गुना बढ़ चुकी है।

खबरें और भी हैं...