पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हमीरपुर में इंसास राइफल नहीं चला सके कॉन्सटेबल:एसपी ने कहा-  कैसे करा पाएंगे निष्पक्ष चुनाव, सिपाही को सही से बेंट पकड़ना भी नहीं आता

हमीरपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हमीरपुर में इंसास राइफल नहीं चला सके कॉन्सटेबल - Money Bhaskar
हमीरपुर में इंसास राइफल नहीं चला सके कॉन्सटेबल

हमीरपुर में उत्तरप्रदेश पुलिस जो अपने आपको देश की नंबर वन पुलिस होने का दम्भ भरती है, और अभी उसी पुलिस पर उत्तरप्रदेश होने वाले विधानसभा को निष्पक्ष तरीके से कराने का बोझ भी है। वह पुलिस आज हमीरपुर में फेल होती दिखाई दी है। इस बात की पोल आज उस समय खुल गई जब अपर एसपी थाने का अर्धवार्षिक मुआयना करने पहुंचे। तो यहां कुछ सिपाही सही से बेंट पकड़ना भी नहीं। आया तो कुछ असलहों को सही से ऑपरेट नहीं कर सके।

सिपाहियों को नहीं आता रायफल खोलना

जिले की मौदहा कोतवाली का अर्धवार्षिक मुआयना था इसी दौरान असलहों की साफ-सफाई और रखरखाव भी चेक किया गया। इसी दौरान अपर एसपी अनूप कुमार ने कुछ सिपाहियों से इंसास राइफल खोलने और बंद करने के लिए कहा। तो पहली महिला सिपाही जिसका नाम स्वीटी बताया जा रहा है वह राइफल नहीं खोल सकी। जिसे अपर एसपी ने चार घंटे की मोहलत दी कि वह राइफल खोल के बताए।

बॉडी गार्ड पकड़ा उल्टा

तो वहीं एक महिला सिपाही से जब दंगे के दौरान अपनी सुरक्षा करते हुए दंगाइयों को खदेड़ने के दौरान बॉडी गार्ड पकड़ने और बेंट पकड़ने की बाबत पूछा गया। तो महिला सिपाही ना तो सही से बेंट ही पकड़ सकी और बॉडी गार्ड भी उल्टा पकड़े दिखाई दी।