पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस की अवैध वसूली:रोड सेफ्टी स्टिकर बांटने के बहाने होशियारपुर पुलिस वाहनों से 250 रुपए ले रही, गगरेट-होशियारपुर बॉर्डर के पास खेल जारी

हमीरपुर4 महीने पहलेलेखक: विक्रम ढटवालिया
  • कॉपी लिंक

गगरेट-होशियारपुर के बीच बॉर्डर के पास पंजाब पुलिस पीबी नंबर बाली प्लेट को छोड़कर हिमाचल से आने-जाने वाले तमाम छोटे-बड़े निजी वाहनों पर ‘रोड़ सेफ्टी’ के स्टीकर लगाने के बहाने ढाई सौ रुपए की वसूली कर रही है। यह कार्रवाई जबरी तौर पर हो रही है। हरेक वाहन से यह वसूली वीरवार को देर शाम तक देखी गई। कई वाहन चालकों ने ‘भास्कर’ को बताया कि पुलिस का कहना था कि पर्ची कटवानी पड़ेगी। क्योंकि रोड सेफ्टी के यह स्टिकर पंजाब में अनिवार्य हैं।

बगैर पर्ची कटवाए वाहनों को वहां से होशियारपुर की ओर नहीं जाने दिया। होशियारपुर के एसपी कुलवंत सिंह हीर का कहना था कि ऐसे कोई आदेश नहीं हैं। जो लोग भी इस तरह की कार्रवाई में लिप्त हैं, उनके खिलाफ पर्चा दर्ज होगा। मगर होशियारपुर के एसएचओ इकबाल सिंह का कहना था कि 6 माह पहले किसी को ठेका दिया गया था। उसकी अवधि समाप्त हो गई है या नहीं? यह देखना पड़ेगा।

लेकिन जब उनसे यह पूछा गया कि पंजाब बॉर्डर पर आने वाले हिमाचल के वाहनों का इस तरह से पर्ची काटने का सिलसिला केवल होशियार पर रूट पर ही है, बाकी कहीं नहीं है। उन्हाेंने कहा कि फिर इसकी जांच की जाएगी। डीसी ऑफिस होशियारपुर ने कहा कि उन्होंने ऐसे किसी भी तरह के आदेश होने पर साफ तौर पर इंकार किया।

समस्या यह है कि वीरान जगह पर पुलिस एक टेंट नुमा तंबू गाड़ कर वाहनों को इस तरह के स्टिकर देकर 250 रुपए की वसूली आखिर कर क्यों रही है? एसपी मना कर रहे हैं कि ऐसे कोई आदेश नहीं हैं। पिछले कुछ दिनों से ऐसा किया जा रहा है। हिमाचल से सैकड़ों वाहन हिमाचल नंबर की प्लेट वाले पंजाब की तरफ जाते हैं। वाहन चालकाें का कहना है कि पंजाब पुलिस को इस पर रोक लगानी चाहिए।

इस तरह के स्टीकर बांटने के कोई आदेश नहीं हैं। शुक्रवार को बारिश की वजह से पता नहीं किया जा सका। लेकिन शनिवार को मौके पर पहुंचकर जांचा जाएगा। मामला ध्यान में लाया गया है, इसलिए हर हाल में दोषियों के खिलाफ पर्चा दाखिल होगा।
- कुलवंत सिंह हीर, एसपी होशियारपुर

खबरें और भी हैं...