पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हमीरपुर में ग्रामीणों ने मतदान का किया बहिष्कार:‘सड़क नहीं तो वोट नहीं’ के नारों के साथ हुआ प्रदर्शन, गाँव में लगाये काले बैनर

हमीरपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश में जब-जब चुनाव आता है। तब-तब लीगों को अपनी मूलभूत सुविधाओं की फिक्र होने लगती है। तब वह चुनाव बहिष्कार जैसे हथकंडे अपनाते हैं। इस बार भी हमीरपुर जिले में राठ तहसील क्षेत्र के लोगों ने मूलभूत सुविधाओं के लिए वोट बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। इसे लेकर ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया।

राठ तहसील क्षेत्र में जिगनी गाँव के लोगों ने अपने में जगह-जगह काले-काले बैनर टाँग दिए हैं, जिसमें रोड नहीं तो वोट नहीं का स्लोगन लिखी है। जिगनी गांव के लोगों का कहना है, जब-जब चुनाव आते हैं नेता आकर लच्छेदार बातें करते हैं और वोट लेने के बाद गाँव की तरफ रुख नहीं करते हैं, और फिर गाँव में झांकने तक नहीं आते हैं, हमारी सरकारें डिजिटल युग में पहुंचने की बात कह रही हैं, और जिगनी गाँव में सड़क तक नहीं है। ऐसे में अगर कोई इमरजेंसी पड़ जाए तो मरीज को अस्पताल ले जाना मुश्किल पड़ जाता है। अगर बरसात का मौसम हो तो फिर भगवान ही मालिक है।

सड़क नहीं तो वोट नहीं

जिगनी गाँव के वीरपाल सिंह, वंशराज सिंह, आदित्य प्रताप सिंह सहित दर्जनों लोगों ने बताया कि वोट बहिष्कार करने से पहले उन्होंने सड़क की मांग का ज्ञापन हमीरपुर जिलाधिकारी चंद्रभूषण त्रिपाठी सहित राठ एसडीएम को दिया था। समय देते हुए अवगत कराया था कि उनके गाँव के लिए संपर्क मार्ग बनाया जाए,नहीं तो पूरा गांव वोट का बहिष्कार करेगा, लेकिन जिलाधिकारी सहित किसी अधिकारी के कानों में जूं तक नहीं रेंगी। इसलिए अब हम लोग वोट का बहिष्कार कर रहे हैं, और बीते दिन से ही ग्रामीणों ने गांव के नुक्कड़ों पर काले रंग के बैनर टांग दिए हैं, और सड़क नहीं तो वोट नहीं के नारे लगाते हुए प्रदर्शन किया है। आपको बता दें कि जिगनी गाँव हमीरपुर मुख्यालय से 90 किलोमीटर की दूरी पर है और तहसील मुख्यालय भी जिगनी गाँव से 25 किलोमीटर दूर है।