पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59773.27-0.54 %
  • NIFTY17849.35-0.5 %
  • GOLD(MCX 10 GM)480700.26 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633193.1 %

गोरखपुर एयरफोर्स में 4 साल पोस्टेड रहे वरुण:ग्रुप कैप्टन की बड़ी बहन प्रोफेसर दिव्या रानी बोलीं- मेरे वीर को किसी की नजर लग गई

गोरखपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोरखपुर विश्वविद्यालय की प्रोफेसर व होमसाइंस डिपार्टमेंट की एचओडी दिव्या रानी सिंह ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की बड़ी बहन हैं। - Money Bhaskar
गोरखपुर विश्वविद्यालय की प्रोफेसर व होमसाइंस डिपार्टमेंट की एचओडी दिव्या रानी सिंह ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की बड़ी बहन हैं।

तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार दोपहर करीब 12 बजकर 20 मिनट पर सेना के हेलिकॉप्टर क्रैश में अकेले बचने वाले शख्स हैं ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह। उनकी गोरखपुर में मौजूद बहन के घर भी हादसे की सूचना पहुंची। गोरखपुर विश्वविद्यालय की प्रोफेसर व होमसाइंस डिपार्टमेंट की एचओडी दिव्या रानी सिंह ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की बड़ी बहन हैं।

पल-पल परिवार के लोग वेलिंगटन से फोन पर एक-दूसरे को सांत्वना देते हुए ढांढस बांध रहे हैं। हर कोई उनके सु​रक्षित और ठीक होने के लिए ईश्वर से प्रार्थना कर रहा है। फोन की बजती घंटियों के साथ परिवार की सांसें भी बढ़ जा रही हैं। इस बीच कभी राहत भरी, तो कभी डरावनी खबरें आने से परिवार के लोगों की मुश्किलें और भी बढ़ती जा रही हैं। वहीं, देवरिया और गोरखपुर में मौजूद परिवार के अन्य लोग भी वेलिंगटन के लिए रवाना हो गए हैं। फिलहाल वरुण का वेलिंगटन में सेना के अस्पताल में इलाज चल रहा है।

बीते 15 अगस्त को उन्हें शौर्य चक्र से नवाजा गया था।
बीते 15 अगस्त को उन्हें शौर्य चक्र से नवाजा गया था।

शौर्य चक्र से नवाजे जा चुके हैं वरुण
उनकी बॉडी इस हादसे में बुरी तरह झुलस गई है। वे वेलिंगटन के मिलिट्री अस्पताल में भर्ती हैं। बड़ी बहन दिव्या रानी रो-रोकर कहती हैं, मेरे वीर वरुण को किसी की नजर लग गई। अभी पिछले साल तेजस फाइटर जेट उड़ाते वक्त उन्हें बड़ी तकनीकी दिक्कत का सामना करना पड़ा था। पर उन्होंने साहस नहीं खोया और विमान को सुरक्षित लैंड कराया। इसके लिए बीते 15 अगस्त को उन्हें शौर्य चक्र से नवाजा गया था।

वरुण की पत्नी गीतांजलि अपने बेटे रिद्धिमन और बेटी रितिका के साथ अभी वेलिंगटन में ही रहती हैं।
वरुण की पत्नी गीतांजलि अपने बेटे रिद्धिमन और बेटी रितिका के साथ अभी वेलिंगटन में ही रहती हैं।

फोन कर पत्नी गीताजंलि को ढांढस बंधा रहीं बड़ी बहन
वायु सेना में ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह(40) मूल रुप से देवरिया के कन्हौली गांव के रहने वाले हैं। वर्तमान में उनकी पोस्टिंग तमिलनाडु के वेलिंगटन में है। वरुण की पत्नी गीतांजलि अपने बेटे रिद्धिमन और बेटी रितिका के साथ अभी वेलिंगटन में ही रहती हैं। दिव्या रानी बताती हैं कि वरुण सिंह साल 2006 से 2010 तक गोरखपुर एयरपोर्स में जगुआर कैप्टन के पद पर पोस्ट रहे। इस 4 साल के दौरान वे फैमिली के साथ गोरखपुर में ही रहते थे। दिव्या रानी लगातार वरुण सिंह की पत्नी और बच्चों से फोन पर बात कर उनको ढांढस बंधा रही हैं।

वरुण पिछले साल नवंबर में एक शादी समारोह में शामिल होने आए थे। इस दौरान परिवार के सभी लोगों की उनसे मुलाकात भी हुई थी।
वरुण पिछले साल नवंबर में एक शादी समारोह में शामिल होने आए थे। इस दौरान परिवार के सभी लोगों की उनसे मुलाकात भी हुई थी।

नवंबर 2020 में गोरखपुर आए थे वरुण
नम आंखों से दिव्या रानी बताती हैं कि यूं तो बड़ी बहन होने की वजह से वरुण को उनसे काफी लगाव है, लेकिन 4 साल गोरखपुर में पोस्टिंग के दौरान बच्चों सहित पूरे परिवार से कुछ अधिक ही जुड़ाव रहा। शायद ही कोई ऐसा दिन होता होगा, जिस दिन दिव्या रानी अपने भाई से बात न करती हों। हादसे की खबर सुनते ही प्रोफेसर वेलिंगटन जाने की जिद पर हैं। परिवार के अन्य सदस्य वहां के लिए रवाना हो गए हैं। दिव्या रानी बताती हैं कि वरुण अभी पिछले साल नवंबर महीने में एक शादी समारोह में शामिल होने आए थे। इस दौरान परिवार के सभी लोगों की उनसे मुलाकात भी हुई थी। इस दौरान वरुण गोरखपुर और देवरिया भी आए थे।

खबरें और भी हैं...