पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60445.01-0.51 %
  • NIFTY17964.6-0.82 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47943-0.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61414-0.3 %

गोरखपुर के युवक की किडनैप कर हत्या:संतकबीरनगर ले जाकर बदमाशों ने मार डाला, नाराज लोगों ने लगाया जाम

गोरखपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नीरज यादव को अगवा कर संतकबीरनगर इलाके में ले जाकर हत्या कर दी गई। - Money Bhaskar
नीरज यादव को अगवा कर संतकबीरनगर इलाके में ले जाकर हत्या कर दी गई।

गोरखपुर के एक युवक की संतकबीरनगर में हत्या कर दी गई। संतकबीरनगर के औरा ढांड निवासी एक युवक और उसके साथियों पर हत्या का आरोप लगाया गया है। नाराज परिजनों और स्थानीय लोगों ने कुरी बाजार में शुक्रवार को सड़क जाम कर दी। लोगों के गुस्से को देखते हुए वहां पुलिस फोर्स तैनात की गई है।

उधर, मृतक के शव का संतकबीरनगर पुलिस पोस्टमार्टम करा रही है। एसपी संतकबीरनगर डॉ. कौस्तुब ने बताया कि घटना कहां और कैसे हुई, जांच की जा रही है। हैसर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर जब युवक को लाया गया, तब वह मृत था। मौत की वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ही सामने आएगी।

दो साथियों के साथ नीरज को उठा ले गया सनी
बेलघाट के कूरी बाजार में नीरज यादव रहता था। गुरुवार शाम वह कूरी स्थित अपने बड़े भाई गोरखनाथ की तंबाकू की दुकान बंद कराने गया था। वहीं संतकबीरनगर के औराड़ाड़ निवासी सनी सिंह अपने दो साथियों के साथ आया था।

आरोप है कि किसी बात को लेकर के सनी का नीरज से विवाद हो गया। सनी तब तो वहां से चला गया। लेकिन कुछ देर बाद अपने कुछ और साथियों के साथ आया। वह नीरज को अपनी गाड़ी से उठा ले गया।

युवक की हत्या की जानकारी मिलते ही लोगों कुरी बाजार में धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया।
युवक की हत्या की जानकारी मिलते ही लोगों कुरी बाजार में धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया।

धारदार हथियार से की गई नीरज की हत्या आरोप है कि सनी सिंह और उसके साथियों ने औराड़ाड़ गांव में धारदार हथियार से नीरज की हत्या कर दी। बाद में एंबुलेंस बुलाकर उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हैसर भेज दिया। वहां डॉक्टर ने नीरज को मृत घोषित कर दिया। सूचना पर संतकबीरनगर की धनघटा पुलिस मौके पर पहुंची।

गुरुवार की रात में हुई घटना की जानकारी शुक्रवार को गोरखपुर पहुंची। इससे नाराज लोगों ने कुरी बाजार में धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। मौके पर पहुंच कर बेलघाट पुलिस ने लोगों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन लोग सड़क से हटने को तैयार नहीं हुए। तब बेलघाट थानेदार ने अधिकारियों को सूचना दी। इसके बाद बेलघाट के अलावा उरुवा और सिकरीगंज की पुलिस भी कूरी बाजार में पहुंच गई।

खबरें और भी हैं...