पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोरखपुर...ससुराल गए युवक की संदिग्ध मौत:परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप; शव रख किया देवरिया हाईवे जाम, पत्नी के चोरी किए गहने लेने गया था

गोरखपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खोराबार राहुल कुमार सिंह के आश्वासन पर परिजन माने और शव को लेकर घर गए। उधर जाम लगने से एक घंटे तक वाहनों का लंबा जाम लग गया। - Money Bhaskar
खोराबार राहुल कुमार सिंह के आश्वासन पर परिजन माने और शव को लेकर घर गए। उधर जाम लगने से एक घंटे तक वाहनों का लंबा जाम लग गया।

गोरखपुर में मंगलवार को ससुराल गए युवक की संदिग्ध मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाया। नाराज लोगों ने शव को सड़क पर रखकर देवरिया हाईवे जाम कर दिया। बाद में थानेदार खोराबार राहुल कुमार सिंह के आश्वासन पर परिजन माने और शव को लेकर घर गए।

उधर, जाम लगने से 1 घंटे तक वाहनों का लंबा जाम लग गया। लोगों ने परेशान होकर गलियों का रुख किया, जिससे वहां भी जाम लग गया।

सोमवार को ससुराल गया था युवक
खोराबार के जंगल सिकरी मिश्रा टोला निवासी मोलई (30) की बहन चंद्रावती की शादी 28 नवंबर को थी। परिवार वाले शादी में व्यस्त थे। आरोप है कि मोलई की पत्नी ज्योति ने परिजनों की व्यस्तता का फायदा उठाया। वह घर में रखा 2 लाख रुपए और जेवरात लेकर मायके भाग गई। इसमें उसका साथ उसके भाई आकाश, विकास और 5 अन्य महिलाओं ने भी दिया। जानकारी होने पर मोलई सोमवार की सुबह ससुराल गया।

इसके बाद सोमवार दोपहर चौरीचौरा पुलिस ने फोन कर परिजनों को सड़क हादसे में मोलई की मौत की सूचना दी। परिजन जब घटनास्थल पर पहुंचे, तो शव देखकर ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाया। जिसके बाद पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

गिरफ्तारी की मांग को लेकर लगाया जाम
मंगलवार की शाम 5 बजे पोस्टमार्टम के बाद परिजन शव लेकर खोराबार स्थित जंगलसिकरी अपने गांव पहुंचे। शाम करीब 6 बजे उन्होंने शव को सड़क पर रखकर गोरखपुर-देवरिया हाईवे जाम कर दिया। सूचना पर खोराबार पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने परिजनों को समझाया और एक घंटे बाद जाम हटवाया। जिसके बाद परिजन शव लेकर घर गए। परिजनों की मांग थी कि ससुराल वालों पर हत्या का केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाए।

फर्नीचर का काम करता था मृतक
मृतक मोलई फर्नीचर बनाने का काम करता था। इस काम में उसका भाई भी हाथ बंटाता था। मोलई का एक 2 साल का बेटा सीनू है। उधर, खोराबार थाना प्रभारी राहुल कुमार सिंह के सामने युवक की मां भानमती देवी और बहन सुनीता ने कहा कि पत्नी व उसके भाइयों ने मोलई की हत्या कर शव को सड़क पर फेंक दिया। जिससे यह सड़क हादसा लगे।