पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोरखपुर पहुंचे CM योगी और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर:दूरदर्शन अर्थ स्टेशन और 4 FM रिले केंद्र का शुभारंभ, बोले- 11 से होगा एक घंटे भोजपुरी कार्यक्रमों का प्रसारण; 37 वर्षों का इंतजार खत्म

गोरखपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीएम योगी ने कहा कि दुष्प्रचार को रोकने में यह दूरदर्शन केंद्र बड़ी भूमिका का निर्वहन करेगा। - Money Bhaskar
सीएम योगी ने कहा कि दुष्प्रचार को रोकने में यह दूरदर्शन केंद्र बड़ी भूमिका का निर्वहन करेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने शुक्रवार शाम गोरखपुर दूरदर्शन के अर्थ स्टेशन (भू उपग्रह केंद्र) का लोकार्पण किया। इस अवसर पर सीएम व केंद्रीय मंत्री ने एफएम रिले केंद्र इटावा, गदानिया लखीमपुर खीरी और नानपारा बहराइच का भी वर्चुअल शुभारंभ किया। समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने घोषणा की कि 11 दिसंबर से इस अर्थ स्टेशन के जरिये प्रतिदिन 1 घण्टे के भोजपुरी कार्यक्रमों का प्रसारण शुरू कर दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने आने वाले समय में सुल्तानपुर, रामपुर व महराजगंज में एफएम ट्रांसमीटर की स्थापना का भी ऐलान किया करते हुए कहा कि अगले दो साल में प्रदेश के सभी क्षेत्रों में एफएम की सुविधा उपलब्ध होगी।

सीएम योगी ने कहा कि उन्होंने पूर्वी उत्तर प्रदेश के 37 वर्षों के इंतजार को दूर करते हुए आज इस अर्थ स्टेशन को राष्ट्र को समर्पित किया है।
सीएम योगी ने कहा कि उन्होंने पूर्वी उत्तर प्रदेश के 37 वर्षों के इंतजार को दूर करते हुए आज इस अर्थ स्टेशन को राष्ट्र को समर्पित किया है।

हिमाचल प्रदेश से ही गोरखपुर आए थे गुरु गोरक्षनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्री और खेल-कूद और युवा मामलों के मंत्री अनुराग ठाकुर का आभार जताते हुए कहा कि गुरु गोरक्षनाथ की पावन धरती पर हृदय से स्वागत करता हूं। वह मूल रूप से हिमाचल प्रदेश से संबंधित है और हम सब जानते हैं कि अगले महीने खिचड़ी का मेला आने वाला है। हम सब बाबा गोरक्षनाथ जी को खिचड़ी चढ़ाते हैं। बाबा गोरक्षनाथ भी गोरखपुर में हिमाचल के कांगड़ा से आए थे और इसीलिए उनका आज यहां गोरखपुर में आगमन हुआ है।

पूर्वी उत्तर प्रदेश के 37 वर्षों के इंतजार खत्म
सीएम योगी ने कहा कि उन्होंने पूर्वी उत्तर प्रदेश के 37 वर्षों के इंतजार को दूर करते हुए आज इस अर्थ स्टेशन को राष्ट्र को समर्पित किया है। मैं इसके लिए पूर्वी उत्तर प्रदेश की 5 करोड़ जनता की ओर से उनका हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। इससे ना केवल पूर्वी उत्तर प्रदेश बल्कि बिहार का एक बड़ा भू-भाग और नेपाल की भी एक बड़ी आबादी लाभान्वित होगी और सीमावर्ती क्षेत्रों में जहां कहीं थोड़ी हलचल होती है, दुष्प्रचार भारत विरोधी गतिविधियों में जो लोग सम्मिलित होते हैं, उन लोगों के द्वारा जो दुष्प्रचार किया जाता है, उस दुष्प्रचार को रोकने में यह दूरदर्शन केंद्र बड़ी भूमिका का निर्वहन करेगा।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि इटावा, लखीमपुर व बहराइच में लगे 10-10 किलोवाट के एफएम ट्रांसमीटर से एक करोड़ से अधिक की आबादी लाभान्वित होगी।
अनुराग ठाकुर ने कहा कि इटावा, लखीमपुर व बहराइच में लगे 10-10 किलोवाट के एफएम ट्रांसमीटर से एक करोड़ से अधिक की आबादी लाभान्वित होगी।

25 करोड़ की लागत से तैयार हुए 4 प्रोजेक्ट
अनुराग ठाकुर ने कहा कि आज लोकार्पित हो रहे चारों प्रोजेक्ट पर 25 करोड़ रुपये का खर्च आया है। इटावा, लखीमपुर व बहराइच में लगे 10-10 किलोवाट के एफएम ट्रांसमीटर से एक करोड़ से अधिक की आबादी लाभान्वित होगी। साथ ही अर्थ स्टेशन गोरखपुर से लखनऊ व दिल्ली के केंद्र सीधे जुड़ जाएंगे जबकि पहले यहां कार्यक्रम रिकार्ड कर लखनऊ भेजना पड़ता था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम से आकाशवाणी का खोया गौरव वापस दिलाया है। इसमें सुदूर गांवों की भी प्रेरणादायी गाथाएं सुनाई देती हैं। यह इस बात का द्योतक है कि कंटेंट अच्छा है तो उसे दुनिया देखने-सुनने को तैयार है।

भाजपा नेताओं संग बैठक करेंगे अनुराग ठाकुर
मुख्यमंत्री एवं केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर शुक्रवार शाम करीब 4 बजे गोरखपुर पहुंचें। वे पहले राप्तीनगर स्थित दूरदर्शन केंद्र पहुंचें। लोकार्पण कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री गोरखनाथ मंदिर में रात्रि विश्राम करेंगे। उधर केंद्रीय मंत्री एवं प्रदेश के सह चुनाव प्रभारी अनुराग ठाकुर शुक्रवार की शाम 6 बजे सर्किट हाउस में भाजपा नेताओं के साथ बैठक करेंगे।

दो दिन रहेंगे गोरखपुर में रहेंगे सीएम योगी
शनिवार की सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री एवं केंद्रीय मंत्री महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक सप्ताह समारोह में शामिल होंगे। शाम 4 बजे अखिल भारतीय प्राइजमनी कबड्डी प्रतियोगिता में भाग लेंगे। मुख्यमंत्री 5 दिसंबर की सुबह लखनऊ के लिए रवाना होंगे। इस दौरान वह प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के तैयारियों की समीक्षा भी कर सकते हैं। वहीं केंद्रीय मंत्री के शनिवार की शाम ही गोरखपुर से प्रस्थान कर जाने की उम्मीद है।