पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निर्माण के बाद विद्यालय भवन हुवा जर्जर:दस साल पहले बनाया गया था प्रथमिक विद्यालय, प्लास्टर ,फर्श तक नहीं बन पाई

तरबगंज, गोंडा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

तरबगंज तहसील के शिक्षा क्षेत्र वजीरगंज के ग्राम पंचायत अचलपुर में स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय का निर्माण 15 साल पहले हो चुका है, लेकिन अब तक न तो दीवारों पर प्लास्टर किया गया और न ही फर्श लगाई गई है। छात्र-छात्राएं जैसे-तैसे शिक्षा ग्रहण करने को मजबूर हैं।

शासन ने कायाकल्प योजना के तहत सरकारी भवन का सुंदरीकरण का अभियान भले ही चला रखा हो, लेकिन इस विद्यालय के भवन को देखकर योजना की दुर्दशा का अंदाजा लगाया जा सकता है। दस साल पहले निर्मित हुए विद्यालय भवन की दुर्दशा जिम्मेदारों की कलई खोलने को काफी है। इस विद्यालय के बाहरी ओर जैसे तैसे प्लास्टर तो हो गया पर पिछला हिस्सा अब भी अपनी दुर्दशा की कहानी बयां कर रहा है।

विद्यालय में प्लास्टर और फर्श नहीं लगाई गई है। एआरपी घनश्याम मौर्य ने बताया कि विद्यालय भवन में बच्चे काफी परेशानियों के बीच शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। भवन के निर्माण में बेहद घटिया सामग्री का इस्तेमाल करने के बाद अब तक कार्य पूरा नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधान से विद्यालय का कार्य पूरा कराने के लिए कहा गया लेकिन स्थिति ज्यों की त्यों बनी हुई है।

बताया जाता है कि कायाकल्प के तहत पैसा भी गबन कर लिया गया है। विद्यालय की स्थिति देखकर अब बच्चे विद्यालय आने से कतरा रहे हैं। इस संदर्भ प्रधान मोहम्मद जकी ने बताया कि विद्यालय को अधूरा ही छोड़ दिया गया था, जिसकी जानकारी विभागीय अधिकारियों को है।विद्यालय अत्यंत जर्जर हो चुका है। इस विद्यालय को कायाकल्प योजना में सम्मिलित नहीं किया जा सकता।

खबरें और भी हैं...