पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तरबगंज के वजीरगंज कोल्ड स्टोर में सड़ रहा आलू:47 हजार कुंतल आलू का भंडारण, 3 से 5% सड़न शुरू, जिला उद्यान अधिकारी ने किया निरीक्षण

तरबगंज, गोंडाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाराबंकी के किसानों ने स्टोर से आलू निकालना किया शुरू - Money Bhaskar
बाराबंकी के किसानों ने स्टोर से आलू निकालना किया शुरू

तरबगंज के वजीरगंज स्थित सदगुरुदेव कोल्ड स्टोर में जमा आलू में सड़न शुरू होने से किसानों को नुकसान हो रहा है। इसी कारण जिला उद्यान अधिकारी व एसडीएम ने मंगलवार को कोल्ड स्टोर का जायजा लिया। किसानों को समय से आलू बेचने की सलाह दी।

सड़ने की ये रही वजह

वजीरगंज का एक मात्र कोल्ड स्टोर बंद होने के कगार पर है। होली के बाद तापमान बढ़ने के कारण आलू लदे वाहनों को कई दिनों तक धूप में खड़े होकर स्टोर करने के लिए इंतजार करना पड़ा। जिससे आलू गर्म हो गये व इसी स्थिति में आलू गोदाम में रख दिए गये। गोदाम प्रबन्धक दिनेश मिश्रा ने बताया कि तमाम प्रयासों के बावजूद जमा आलू का तापमान नियंत्रित नहीं किया जा सका। इसी कारण आलू में 3 से 5% सड़न व जमाव शुरू हो गया। इस गोदाम की कुल भंडारण क्षमता 66 हजार कुंतल है। जबकि इस सत्र में 47 हजार कुंतल आलू का भंडारण हुआ था।

कोल्ड स्टोर का निरीक्षण करते अधिकारी।
कोल्ड स्टोर का निरीक्षण करते अधिकारी।

स्थानीय किसानों का 17 हजार कुंतल आलू स्टोर

जमा आलू में 30 हज़ार कुंतल आलू बाराबंकी जनपद का है। जबकि 15 हजार से 17 हजार कुंतल आलू स्थानीय किसानों का है। बीते तीन दिन के अंदर लगभग पांच हजार कुंतल आलू की निकासी हुई है। अभी स्टोर का ध्यान आलू की सुरक्षित निकासी पर है। आलू की छंटनी करने के बाद व्यापारी बिक्री कर कोल्ड स्टोर का भाड़ा रियायती दर पर चुकाएंगे व किसानों को उनका दाम देंगे। प्रबन्धक ने बताया कि गत वर्ष आलू का भाड़ा 280 रुपये कुंतल था। स्टोर पर बिजली कनेक्शन नहीं है।160 केवीए के दो डीजल जेनरेटर लगे हैं। जिन को बारी-बारी से चलाया जाता है।

16-17 घण्टे चलता जनरेटर

इनकी ईंधन खपत 30 लीटर प्रति घण्टा है। प्रतिदिन 16-17 घण्टे जेनरेटर चला कर भी आलू बचाया नहीं जा सका। आलू कृषकों को फोन से सूचना भेज कर आलू की तत्काल निकासी कर बाजार में बेचने की सलाह दी जा रही है। जिससे कृषक ज्यादा क्षति से बच सकें। क्षेत्र के कई आलू व्यापारी व स्थानीय कृषक आलू निकाल कर छंटनी करवा रहे हैं। आलू सड़ने की सूचना पर जिला उद्यान अधिकारी ने कोल्डस्टोर में जमा आलू का जायजा लिया।

मामले की जांच कर होगी कार्रवाई

उन्होंने बताया आलू की स्थित को देखने हुए किसानों को उसे बेचने की सलाह दी। बाराबंकी के किसान रामराज, शहजाद व स्थानीय किसान जगदम्बा सिंह ने बताया कि आलू सड़ने के बारे में कोल्डस्टोर से सूचना दी गयी। आलू की छंटनी करा रहे हैं। उपजिलाधिकारी कुलदीप सिंह ने बताया कि आलू का सड़ना किसानों की बड़ी क्षति है। वजह की जांच कर कारवाई की जाएगी।