पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फर्जी जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने वाले गिरोह का खुलासा:गोंडा में तीन गिरफ्तार, सीआरएस पोर्टल की तरह वेबसाइट बनाकर कर रहे थे धंधा

गोंडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मामले की प्रेस को जानकारी देते पुलिस अधिकारी और पीछे खड़े आरोपी।

गोंडा में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए फर्जी जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने वाले अन्तर्राज्यीय साइबर गिरोह का खुलासा किया है। पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों के पास से 6 लैपटाप,1 स्कैनर, 3 प्रिन्टर, 5 एंड्रायड फोन, 4 कीपैड मोबाइल, 20 आधार कार्ड, 1 फिंगर प्रिंट स्कैनर, 1 कैमरा और अन्य सामान बरामद किया है।

महिला अस्पताल के डॉक्टर की शिकायत पर कार्रवाई

नगर कोतवाली में महिला अस्पताल के चिकित्साधिकारी ने शिकायती पत्र दिया गया था। जिसमें बताया था कुछ लोग सीआरएस पोर्टल से मिलता जुलता पोर्टल बनाकर जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र तैयार कर रहे हैं। जिसके बाद पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज किया। खुलासे के लिए एसपी आकाश तोमर ने अपर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में टीम का गठन किया। टीम ने कार्रवाई करते गोंडा निवासी रोहित कुमार ( लोकवाणी संचालक), अभय श्रीवास्तव (सीएससी जिला प्रबन्धक) और बस्ती निवासी कृष्ण कुमार कनौजिया को गिरफ्तार कर लिया।

गोंडा पुलिस की गिरफ्त में फर्जी प्रमाण पत्र बनाने वाले गिरोह के तीन सदस्य।
गोंडा पुलिस की गिरफ्त में फर्जी प्रमाण पत्र बनाने वाले गिरोह के तीन सदस्य।

अन्य राज्यों और जिलों को भी कार्रवाई के लिए दी सूचना

अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज प्रजापति ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि फर्जी वेबसाइट के माध्यम से जन्म- मृत्यु प्रमाण बनाने का कार्य एक वर्ष से किया जा रहा था। विभिन्न राज्यों में भी अपने डोमेन और वेबसाइट का प्रचार-प्रसार कर रिटेलर बनाकर पैसा कमा रहे थे। पुलिस टीम ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों से अन्तर्राज्यीय लिंक की जानकारी प्राप्त कर अन्य राज्यों और जिलों से भी कार्रवाई के लिए संपर्क किया है।

खबरें और भी हैं...