पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोंडा में तीन दशक से मुस्लिम परिवार बना रहा रावण:लोग पहले से देते हैं ऑर्डर, कल होगा दहन

गोंडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कल रावण दहन विजयादशमी का त्यौहार पूरे देश में मनाया जाएगा। गोंडा में रावण दहन से पहले रावण बनाने की तैयारियां जोरों पर है। रावण को बनाकर तैयार कर दिया गया है। जहां-जहां कल रावण दहन होगा। वहां के रामलीला कमेटी के लोग रावण को लादकर अपने रामलीला मैदान ले जा रहे हैं।

गोंडा के पटेल नगर में रहने वाला एक मुस्लिम परिवार आपसी सौहार्द और भाईचारे की मिशाल पेश करते हुए लगभग तीन दशकों से ये विजयादशमी के दिन जलने वाले रावण को बनाने का काम कर रहा है। जिसकी इलाके में प्रशंसा हो रही है। कोरोना काल के दौरान जब विजयादशमी और रामलीला नहीं मनाई गई तब इनके घरों में मायूसी थी। लेकिन जब लगभग 2 सालों के बाद रामलीला मनाया जा रहा है तो यह लोग ऑर्डर पर रावण को बनाकर मुनाफा कमा रहे हैं।

रावण बनाने का ऑडर दिया गया
रावण बनाने वाले शाहिद का कहना है कि हम को रामलीला मैदान और फुरवीगंज पर हो रही रामलीला में रावण बनाने का ऑडर दिया गया है। रावण बनकर तैयार है रामलीला कमेटी के लोग इसको लेकर जाएंगे। एक रावण के बनाने में लगभग आठ से 10,000 का खर्चा आता है। हम लोग उसको 15000 में बेचकर मुनाफा कमा लेते हैं।

कई सालों से ये लोग रावण को बनाने का काम कर रहे हैं.।
कई सालों से ये लोग रावण को बनाने का काम कर रहे हैं.।

पिताजी रावण बनाने का काम करते थे
मेरा पूरा परिवार मिलकर रावण बनाने का काम करता है और हमारे पिताजी रावण बनाने का काम करते थे। उससे सीखते सीखते हम भी लोग बना रहे हैं। इस समय जहां हिंदू और मुस्लिम की बात करते हैं। इससे हमारा कोई मतलब नहीं है हम लोग अपना काम करते हैं।

खबरें और भी हैं...