पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोंडा वासियों को मिलेगा जाम से छुटकारा:तीन रेलवे क्रॉसिंग पर निर्माण कार्य जारी, वित्तीय वर्ष 2021-22 में स्वीकृत हुए थे फ्लाईओवर

गोंडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गोंडा को वित्तीय वर्ष 2021-22 में तीन रेलवे क्रॉसिंग पर ओवरब्रिज स्वीकृत हुए थे। जिसका निर्माण कार्य जारी है। जिसमें मिश्रौलिया में बन रहे फ्लाई ओवर को निर्माण लगभग 90 प्रतिशत पूरा हो चुका है। महादेवा रेलवे क्रॉसिंग का निर्माण 25 प्रतिशत काम पूरा हुआ है। गोरखपुर रेलवे लाइन पर सोनी गुमटी रेलवे क्रासिंग पर निर्माण कार्य जारी है। पिलरों की ढलाई शुरू हो गई है। इन तीनों फ्लाईओवर बन जाने पर यहां के लोगों को जाम से छुटकारा मिलेगा।

गोंडा में रिंग रोड या बाई पास नहीं होने से वाहनों को नगर से होकर गुजरना पड़ता है। जिससे ज्यादातर समय जाम की स्थिति बनी रहती है। लखनऊ, बहराइच, अयोध्या, बलरामपुर, डुमरियागंज, उतरौला जाने वाले सभी नगर से होकर गुजरते हैं। ऐसे में गोंडा से गोरखपुर, लखनऊ ,बहराइच, बलरामपुर को जाने वाले रेलवे लाइनों के गेट थोड़ी देर के लिए भी बंद हो जाए तो लंबी लंबी लाइन लग जाती है।

गोंडा में रेलवे क्रॉसिंग पर ओवरब्रिज का निर्माण कार्य।
गोंडा में रेलवे क्रॉसिंग पर ओवरब्रिज का निर्माण कार्य।

वित्तीय वर्ष 2021-22 क्रॉसिंग स्वीकृत
जिसको देखते हुए केंद्र सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में मिश्रौलिया क्रासिंग, सोनी गुमटी रेलवे क्रॉसिंग और महादेवा क्रॉसिंग पर ओवरब्रिज स्वीकृत किया। इन तीनों ओवरब्रिज के बन जाने से लोगों को जाम से मुक्ति मिलेगी।

गोंडा में पिलर के लिए मशीन से खुदाई का कार्य।
गोंडा में पिलर के लिए मशीन से खुदाई का कार्य।

मिश्रौलिया रेलवे क्रॉसिंग​​​​​​​ होकर नेपाल तक जाते हैं वाहन
मिश्रौलिया रेलवे क्रॉसिंग से बहराइच, रुपईडीहा और नेपाल तक वाहनों का आवागमन होता है।जबकि महादेवा रेलवे क्रॉसिंग से कटरा चंदवतपुर होते हुए नगर में वाहनों का आवागमन होता है।इसे बाईपास के रूप में उपयोग किया जाता है। जो लखनऊ से आते समय कटरा होकर इसी रास्ते से गोंडा पहुंचते हैं।

गोंडा में ओवरब्रिज का निर्माण।
गोंडा में ओवरब्रिज का निर्माण।

लोगों को जाम से जूझना पड़ता था
जिसके कारण क्रासिंग पर लंबी-लंबी लाइनें लग जाती है। जाम लगने से लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। इसको देखते हुए वर्ष 2016 में तीन रेलवे क्रॉसिंग पर 251 करोड़ से ओवरब्रिज बनवाने की कवायद शुरू हुई थी। जिसे 2021-22 में स्वीकृत किया गया।

खबरें और भी हैं...