पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गोंडा में भूसे की कोठी में मिला व्यवसायी का शव:3 दिन से लापता थे, पिता ने अपहरण होने की बात कही थी, SP बोले- आरोपियों की तलाश शुरू

गोंडाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घटना स्थल पर मौजूद पुलिस अधिकारी और ग्रामीण। - Money Bhaskar
घटना स्थल पर मौजूद पुलिस अधिकारी और ग्रामीण।

गोंडा में लापता दवा व्यवसायी का शव गुरुवार को गांव के बाहर भूसे की कोठी में मिला। शव की हालत काफी खराब हो चुकी थी। पुलिस के मुताबिक शव तीन से चार दिन पुराना हो सकता है।

भूसे की कोठी में शव मिलने की सूचना पर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र, अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज, क्षेत्राधिकारी सदर लक्ष्मीकांत गौतम व इटियाथोक थाना प्रभारी करुणाकर पांडे मौजूद रहे।

पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से शव को भूसे की कोठी से निकाला।
पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से शव को भूसे की कोठी से निकाला।

परिजनों ने शव की शिनाख्त की

एसपी ने परिजनों से शव की शिनाख्त कराई। एसपी ने बताया कि भूसे की कोठी में मिली डेडबॉडी लालमन विश्वकर्मा की है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इटियाथोक थाना क्षेत्र के रमवापुर नायक निवासी दयाराम विश्वकर्मा की धानेपुर के जोगी जोत भट्ठे के पास मेडिकल स्टोर की दुकान है।

शव को निकालने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।
शव को निकालने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

सोमवार से लापता थे लालमन

बीते सोमवार को उसका बेटा लालमन विश्वकर्मा बाइक से दुकान गया था। दयाराम विश्वकर्मा ने बताया कि रात करीब साढ़े नौ बजे फोन आया था कि बेटे का अपहरण कर लिया गया है। अगर चार लाख रुपए नहीं मिले तो उसे जान से मार देंगे। गांव के समीप उसकी बाइक बरामद हुई थी। भूसे की कोठी में शव मिलने के बाद एसपी संतोष कुमार मिश्र ने कहा कि मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।

खबरें और भी हैं...