पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

घटिया निर्माण से टूटी थी सैदपुर बाईपास की आरओबी:अब दोबारा से छत की ढलाई का काम शुरू, कुछ माह पहले ही ओवरब्रिज बनकर हुई थी तैयार

सैदपुर (गाजीपुर)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गोरखपुर-वाराणसी फोरलेन राष्ट्रीय राजमार्ग के सैदपुर बाईपास पर कुछ माह पूर्व ही रेल ओवरब्रिज बनाई गई थी। घटिया सामग्री का प्रयोग होने के कारण मार्ग हाल ही में कई जगहों से टूट गया था।

अब इस रेल ओवरब्रिज के पूरे घटिया निर्माण को तोड़कर पीएनसी नए सिरे से छत ढालने की तैयारी कर रही है। घटिया निर्माण की बात सामने आने के बाद से मामले पर ना तो पीएनसी कुछ बता रही है और ना ही परियोजना निदेशक ही इस पर बात करना चाह रहे हैं।

नए सिरे से ढाला जाएगा रेल ओवरब्रिज (आरोबी) की छत का एक हिस्सा
बीतr 20 जून की सुबह में गोरखपुर-वाराणसी फोरलेन एनएच के सैदपुर नगर स्थित रेल ओवरब्रिज की छत में वाहन गुजरने से एक 6 फुट व्यास का छेद हो गया था। इसकी जांच ब्रिज के नीचे से की गई। पाया गया कि पिलर से पुल के छत की शुरुआत में ही पूरे 1 लेन पर लगभग 12 फुट लंबा और 35 फुट चौड़ा सफेद धब्बा दिखाई दिया।

इसी निर्माण में पुल की छत में छेद हुआ था। घटिया निर्माण मानते हुए अब इसे पूरी तरह से तोड़ दिया गया है। अब इस हिस्से को नए सिरे से ढालने की व्यवस्था की जा रही है। जिसके लिए लिफ्ट मशीन के माध्यम से सेंटरिंग शुरू कर दी गई है।

पुल के एक सिरे को फिर से ढालने की व्यवस्था शुरू हो गई है।
पुल के एक सिरे को फिर से ढालने की व्यवस्था शुरू हो गई है।

टीम लीडर की लापरवाही से हुआ था घटिया निर्माण
सैदपुर रेल ओवरब्रिज निर्माण के समय टीम लीडर की लापरवाही के कारण घटिया कंक्रीट सीमेंट मिक्सचर का प्रयोग किया गया। जिसके कारण रेल ओवरब्रिज की छत काफी दूरी तक कमजोर हो गई। जो भारी वाहन के गुजरने से ही टूट गई। इस बारे में परियोजना निदेशक आरएस यादव कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। ना ही इस बारे में पीएनसी के अधिकारी ही कुछ बात करना चाहते हैं।

खबरें और भी हैं...