पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गाजीपुर में बिजली कर्मियों का धरना प्रदर्शन:संगठन ने अधीक्षण अभियंता का किया घेराव, मीटर रीडरों की समस्या का समाधान करने की मांग की

गाजीपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजीपुर में बिजली कर्मियों का धरना प्रदर्शन। - Money Bhaskar
गाजीपुर में बिजली कर्मियों का धरना प्रदर्शन।

गाजीपुर जिले में बुधवार को विद्युत मजदूर पंचायत संगठन के बैनर तले मीटर रीडरों ने अधीक्षण अभियंता कार्यालय का घेराव किया। संगठन के दबाव एवं मीटर रीडरों के आक्रोश को देखते हुए अधीक्षण अभियंता चंद्रभान सिंह ने तत्काल स्टर्लिंग कंपनी के पदाधिकारियों को बुलाया। इस दौरान कंपनी और संगठन के पदाधिकारियों के बीच वार्ता हुई।

वार्ता के दौरान स्टर्लिंग कंपनी ने संगठन के कुछ मुद्दों को मान लिया। कंपनी ने पूर्व में छटनी किए गए सुपरवाइजरों को तत्काल बहाल किया। साथ ही सर्किल मैनेजर नवनीत त्रिपाठी को हटा दिया। 12 नवंबर तक अभी सर्किल पद का चार्ज नवनीत के पास ही रहेगा। 13 नवंबर से जिले को नया सर्किल इंचार्ज मिल जाएगा।

अधिकारी समस्या को लेकर गंभीर नहीं

विद्युत मजदूर पंचायत संगठन के प्रदेश अतिरिक्त प्रांतीय महामंत्री निर्भय सिंह ने बताया कि हम लोग कई बार अधीक्षण अभियंता को फोन से मीटर रीडरों की समस्याओं के बारे में अवगत करा चुके हैं, लेकिन अधिकारी सक्रिय नहीं होते हैं, जिससे हम लोगों को मजबूर होकर घेराव करना पड़ा। उन्होंने कहा कि कंपनी मीटर रीडरों को बिलिंग करने का टारगेट दिया गया था।

ग्रामीण क्षेत्रों में 1,800 और शहरी क्षेत्रों में 2,200 बिलिंग प्रति माह करनी थी। एमडी, पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड इस पर गहनता से समीक्षा कर रहे हैं। उम्मीद है कि ग्रामीण क्षेत्रों में 1,200 प्रतिमाह और शहरी क्षेत्रों में 1,500 बिलिंग करने का जल्द ही आदेश सर्किल ऑफिस में आ जाएगा। पूर्व एन. सॉफ्ट कंपनी को लेकर विस्तृत रूप से अधीक्षण अभियंता से चर्चा की गई। पिछले दो माह की सैलरी और 15,000 डीडी वापसी के लिए बात हुई है।

जल्द ही मीटर रीडरों की समस्या का होगा समाधान

अधीक्षण अभियंता ने कहा कि सरकार द्वारा दिवाली पर सैलरी देने का निर्देश जरूर दिया गया है, लेकिन कंपनी का पेमेंट अभी डिस्कॉम ऑफिस से पास नहीं हुआ है। जैसे ही बिल पास हो जाता है, इसी माह में सभी रीडरों के खाते में दो माह की सैलरी भेज दी जाएगी एवं सभी रीडरों का डीडी इसी माह के अंत तक सबको वापस कर दिया जाएगा। इन सभी मांगों को मानें जानें पर मीटर रीडरों का धरना समाप्त कर दिया है।

खबरें और भी हैं...