पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नाले के पानी से होकर मंदिर जा रहे श्रद्धालू:शीतला माता के मुख्यद्वार पर गंदे पानी का जमाव, स्थानीय लोगों में आक्रोश

गाजीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गाजीपुर में प्रशासन की लापरवाही और कुप्रबंधन के चलते सड़कें बदहाल है और जलजमाव की स्थिति बनी रहती है। इन समस्याओं से आमजन जूझ रहे हैं। साथ ही श्रद्धालु भी इस दुर्व्यवस्था को झेलने को मजबूर हैं। रजदेपुर देहाती में हजारों भक्तों की आस्था का केंद्र शीतला माता मंदिर में नाले का पानी पहुंच गया है। मत्था टेकने पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को इसी नाले के पानी से होकर देवी मां की आराधना के लिए जाना पड़ रहा है। जिससे श्रद्धालुओं में रोष है।

शीतला माता मंदिर लोगों की आस्था का केंद्र है। नवरात्रि में यहां भारी संख्या में श्रद्धालु दर्शन-पूजन के लिए आते हैं। मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं और स्थानीय लोगों का कहना है कि दबंग किस्म के लोगों द्वारा नालियों पर कब्जा किए जाने से जलजमाव की समस्या उत्पन्न हुई है। मंदिर के मुख्य द्वार पर नाले का पानी जमा रहता है। जिससे होकर ही श्रद्धालु मंदिर के अंदर प्रवेश करने को विवश है। पूरे मामले में संबंधित अधिकारियों की उदासीनता से लोगो में रोष है।

गाजीपुर में शीतला माता मंदिर के पास भरा गंदा पानी।
गाजीपुर में शीतला माता मंदिर के पास भरा गंदा पानी।

स्थानीय बोले- गंदे पानी से गुजरना शर्मनाक
स्थानीय अभिनेन्द्र ने बताया कि इस सरकार में भी मंदिर का यह हाल बड़ा सवालिया निशान है। नवरात्रि में जहां देवी मंदिर सज धजकर तैयार किये जाते हैं। वहीं भक्तों को नाले के बदबू भरे पानी से गुजर कर माता के दर्शन को जाना शर्मनाक है।

गाजीपुर में मंदिर के पास गंदा पानी भरे होने का स्थानीय लोगों ने किया विरोध।
गाजीपुर में मंदिर के पास गंदा पानी भरे होने का स्थानीय लोगों ने किया विरोध।

कागजी कोरम पूरा कर रहे अधिकारी
स्थानीय संजीव कुमार ने बताया कि लोग स्नानकर मंदिर में पूजा करने आते हैं, लेकिन इस मंदिर में माता के दर्शन से पहले नाले के गंदे पानी से होकर गुजरना पड़ रहा है। जिम्मेदार अधिकारी स्वच्छता अभियान का कागजी कोरम पूरा करने में मशगूल है।

खबरें और भी हैं...