पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मंदिर का पुजारी बनने के लिए चुराई मूर्ति और आंखें:आरोपी चाहता था– चोरी के शक में पुराना पुजारी हटे और वो खुद बैठे गद्दी पर

गाजियाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजियाबाद की कविनगर पुलिस ने मंदिर में चोरी करने में नवनीत मिश्रा नामक आरोपी को पकड़ा है। - Money Bhaskar
गाजियाबाद की कविनगर पुलिस ने मंदिर में चोरी करने में नवनीत मिश्रा नामक आरोपी को पकड़ा है।

गाजियाबाद के कविनगर में एक मंदिर से लड्डू गोपाल की मूर्ति और सोने की आंखें चोरी करने के आरोप में पुलिस ने शुक्रवार को नवनीत मिश्रा नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है। वह इस मंदिर में पूर्व में पुजारी के सहयोग के तौर पर कार्यरत रहा है। उसकी प्लानिंग थी कि चोरी का इल्जाम वर्तमान पुजारी पर आ जाए और उसके हटते ही वह फिर से पुजारी बन जाए।

16 जून को हुई थी बांके बिहारी मंदिर में चोरी
कविनगर थाने के वरिष्ठ उपनिरीक्षक प्रमोद कुमार ने बताया, गोविंदपुरम स्थित कृष्णा गार्डन में बांके बिहारी शिव मंदिर है। यहां 18 जून 2022 की रात अज्ञात चोर ने बांके बिहारी की पीतल की मूर्ति और माता नैना देवी की मूर्ति से सोने की आंखें चुरा ली। मंदिर के पुजारी जयदत्त गौड़ उर्फ सौरभ शर्मा ने 19 जून को थाना कविनगर में चोरी का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने इस मामले में शुक्रवार को 19 वर्षीय नवनीत मिश्रा को गिरफ्तार किया है। वह मूल रूप से जिला कौशांबी में थाना पश्चिम सरीरा का निवासी है और फिलहाल गाजियाबाद के बालाजी विहार अर्थला में रहता है।

चोरी का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को मंदिर कमेटी ने सम्मानित किया।
चोरी का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को मंदिर कमेटी ने सम्मानित किया।

आठ साल तक इसी मंदिर में रहा आरोपी, दो महीने पहले हटा
पूछताछ में नवनीत मिश्रा ने बताया, वह इस मंदिर में करीब आठ साल तक रहा। यहीं रहकर उसने पुजारी जयदत्त गौड़ से पूजा-पाठ की दीक्षा ली। इन आठ सालों के दौरान वह मंदिर की हर बात को जानता था। करीब दो महीने पहले गलत आदतों के चलते नवनीत मिश्रा को वहां से निकाल दिया गया। इस पर नवनीत ने प्लानिंग बनाई कि अगर वह मंदिर में चोरी कर लेता है तो इसका इल्जाम पुजारी जयदत्त गौड़ पर जाएगा और मंदिर कमेटी जयदत्त को पुजारी पद से हटा देगी। इसके बाद वह खुद पुजारी बन जाएगा।