पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोलकाता का वांटेड आमिर खान गाजियाबाद से गिरफ्तार:ऑनलाइन गेमिंग एप से यूजर्स को ठगा, ED को घर से मिले थे 17 करोड़ रुपए

गाजियाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऑनलाइन गेमिंग एप से करोड़ों रुपए ठगने वाले आमिर खान को कोलकाता पुलिस ने गाजियाबाद से पकड़ा है। - Money Bhaskar
ऑनलाइन गेमिंग एप से करोड़ों रुपए ठगने वाले आमिर खान को कोलकाता पुलिस ने गाजियाबाद से पकड़ा है।

ऑनलाइन गेमिंग एप के जरिए करोड़ों रुपए का फ्रॉड करने के आरोपी आमिर खान को कोलकाता पुलिस शनिवार को उत्तर प्रदेश के जिला गाजियाबाद से गिरफ्तार किया है। वो यहां पर एक रिश्तेदार के घर में छिपा बैठा था। कोलकाता पुलिस अब आमिर को स्थानीय अदालत में पेश करके बी-वारंट पर अपने राज्य में लेकर जाएगी।

बैंक की शिकायत पर कोलकाता में हुई थी FIR
2021 में फेडरल बैंक ऑफ इंडिया ने 'ई-नगेट्स' गेमिंग एप के प्रमोटर आमिर खान के खिलाफ कोलकाता पुलिस में शिकायत की थी। आमिर खान कोलकाता के बड़े बिजनेसमैन नासिर खान का बेटा है। फरवरी-2021 में कोलकाता के पार्क स्ट्रीट पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज हुई और फिर विस्तृत जांच-पड़ताल शुरू हुई।

दो हफ्ते पहले इस केस में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की एंट्री हुई। ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस मानकर 10 सितंबर को कोलकाता में आमिर खान के छह ठिकानों पर छापेमारी की और करीब 17 करोड़ रुपए कैश बरामद किया। हालांकि तब आमिर खान वहां से भाग निकला था।

ये तस्वीर 10 सितंबर की है, जब ईडी ने कोलकाता में आमिर खान के ठिकानों पर छापा मारा था। 17 करोड़ रुपए कैश बरामद हुआ था।
ये तस्वीर 10 सितंबर की है, जब ईडी ने कोलकाता में आमिर खान के ठिकानों पर छापा मारा था। 17 करोड़ रुपए कैश बरामद हुआ था।

गाजियाबाद साइबर यूनिट की मदद से गिरफ्तारी
अब कोलकाता पुलिस को सर्विलांस के जरिये आमिर खान की लोकेशन पता चली। यह जानकारी में सामने आया कि वो उत्तर प्रदेश के जिला गाजियाबाद में अपने एक रिश्तेदार के घर में छिपा हुआ है। कोलकाता पुलिस ने गाजियाबाद पुलिस की साइबर क्राइम यूनिट से संपर्क साधा और शनिवार अलसुबह आमिर खान को गिरफ्तार कर लिया।

करोड़ों रुपया इकट्ठा कर वॉलेट से ट्रांजेक्शन पर लगाई रोक
आमिर खान ने ई-नगेट्स नामक मोबाइल गेमिंग एप लॉन्च की। शुरुआत में इसे प्रयोग करने वाले यूजर्स पुरस्कृत हुए। वे इस एप पर गेम खेलकर पैसा जीत रहे थे और वॉलेट में पैसा इकट्ठा कर रहे थे। इसके बाद यूजर्स झांसे में आते गए और एक मोटी रकम इस गेम में इन्वेस्ट कर दी। इस तरह करोड़ों रुपया आने के बाद प्रमोटर आमिर खान ने सभी यूजर्स के वॉलेट से पैसा निकासी पर रोक लगा दी और फिर सारा डेटा एप के सर्वर से हटा दिया। यूजर्स को तब जाकर इस फ्रॉड का पता चला।