पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57696.46-1.31 %
  • NIFTY17196.7-1.18 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47361-0.07 %
  • SILVER(MCX 1 KG)606850.05 %

वेस्ट यूपी में किसानों ने सरकार के पुतले जलाए:केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र की गिरफ्तारी नहीं होने और कृषि कानूनों का विरोध

गाजियाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गाजीपुर बॉर्डर स्थित किसान क्रांति गेट के समक्ष किसानों ने केंद्र सरकार का पुतला जलाया और नारेबाजी की। - Money Bhaskar
गाजीपुर बॉर्डर स्थित किसान क्रांति गेट के समक्ष किसानों ने केंद्र सरकार का पुतला जलाया और नारेबाजी की।

तीन कृषि कानून और लखीमपुर खीरी कांड के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा के तहत शनिवार को उत्तर प्रदेश में जगह-जगह केंद्र सरकार के पुतले जलाए जा रहे हैं। किसानों का दो टूक कहना है कि अगर खीरी हिंसा में गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी की गिरफ्तारी नहीं हुई तो 18 अक्टूबर को देशभर में 6 घंटे के लिए रेल रोकेंगे।

गाजीपुर बॉर्डर स्थित किसान क्रांति गेट के समक्ष भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार और काले कानूनों का पुतला जलाया। किसानों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस मौके पर कार्यकर्ता दिनेश शर्मा ने कहा कि किसान शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन चला रहे हैं, लेकिन किसान हमारी बात नहीं सुन रही है।

बुलंदशहर में भी कई जगह पुतले फूंके

बुलंदशहर जिले के स्याना में भाकियू के एनसीआर प्रभारी मांगेराम त्यागी के नेतृत्व में किसानों ने दस मुंह वाले पुतले का दहन किया। बुलंदशहर के ही खुर्जा क्षेत्र में किसान सभा, सीटू ने हाईवे पर पुतला जलाकर प्रदर्शन किया। कौशांबी जिले में अखिल भारतीय मजदूर सभा ने जुलूस निकालकर पुतले को आग के हवाले कर दिया। इटावा में किसान सभा कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार का पुतला जलाकर तीन कानूनों के खिलाफ नारे लगाए।

बुलंदशहर के स्याना में भाकियू ने रावण की तरह दस मुंह वाला पुतला जलाया।
बुलंदशहर के स्याना में भाकियू ने रावण की तरह दस मुंह वाला पुतला जलाया।

दूसरे राज्यों में भी जलाए गए पुतले
संयुक्त किसान मोर्चा के अनुसार, यूपी के अलावा ओडिशा के पुरी, गुनूपुर और मयूरभंज, महाराष्ट्र, चेन्नई, हरियाणा के रेवाड़ी, बिहार के सीतामढ़ी, सुपौल और मुजफ्फरपुर, पंजाब के जीरा, राजस्थान के झुंझनू आदि स्थानों पर भी पुतले जलाए जा चुके हैं। शाम तक पुतले जलाने का क्रम जारी रहेगा।

बुलंदशहर के खुर्जा क्षेत्र में किसान सभा ने मोदी सरकार का पुतला फूंका।
बुलंदशहर के खुर्जा क्षेत्र में किसान सभा ने मोदी सरकार का पुतला फूंका।

खीरी से हुआ था आंदोलन का ऐलान
बीती तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में तीन गाड़ियों (थार जीप, फॉर्च्यूनर, स्कॉर्पियो) से कुचलकर 4 किसानों और एक पत्रकार की मौत हो गई। मंत्री अजय मिश्र टेनी का बेटा आशीष मिश्र पहले ही गिरफ्तार हो चुका है। संयुक्त किसान मोर्चा की मांग है कि मंत्री को गिरफ्तार कर बर्खास्त किया जाए। तब तक यह आंदोलन ऐसे ही चलता रहेगा। किसानों ने 11 अक्टूबर को अंतिम अरदास में 4 कार्यक्रमों का ऐलान किया था, इसमें एक पुतले जलाने का भी कार्यक्रम था।