पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वसीम रिजवी की 4 महीने बाद सुप्रीम रिहाई:सर्वोच्च अदालत से अंतरिम जमानत मंजूर, हरिद्वार धर्म संसद की हेट स्पीच में गए थे जेल

गाजियाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण को सुप्रीम कोर्ट ने 3 महीने की अंतरिम रिहाई दी। - Money Bhaskar
वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण को सुप्रीम कोर्ट ने 3 महीने की अंतरिम रिहाई दी।

हरिद्वार की धर्म संसद में हेट स्पीच देने के मामले में 13 जनवरी से जेल में बंद वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी को सुप्रीम कोर्ट से मंगलवार को बड़ी राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें 3 महीने के अंतरिम जमानत दी है। सर्वोच्च अदालत में जमानत देते हुए यह भी कहा है कि वे इस दौरान कोई विवादित बयान नहीं देंगे।

एक समुदाय को खत्म करने की बात कही

हरिद्वार में 17 से 19 दिसंबर 2021 तक एक धर्म संसद आयोजित हुई थी इसमें कथित तौर पर एक समुदाय को खत्म करने जैसी बातें कही गई। 23 दिसंबर को हरिद्वार पुलिस ने हेट स्पीच के मामले में एक FIR दर्ज की थी। इसमें पंचम जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी और वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी जेल गए थे। नरसिंहानंद गिरी को पूर्व में जमानत मिल चुकी है, जबकि वसीम उर्फ जितेंद्र 13 जनवरी 2022 से हरिद्वार जेल में बंद थे।

सुप्रीम कोर्ट में दायर की थी याचिका

नैनीताल हाईकोर्ट से जमानत खारिज होने के बाद सुप्रीम कोर्ट में जमानत के लिए अर्जी दायर की गई थी, जिस पर मंगलवार को सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी को 3 महीने की अंतरिम जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया है

खबरें और भी हैं...