पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वेस्ट UP में ATS की रेड, 9 लोग उठाए:PFI मामले में चल रही कार्रवाई, जिस गांव में हुआ हमला; वहां से 5 लोग हिरासत में

गाजियाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूपी एटीएस ने गाजियाबाद, मेरठ व बुलंदशहर में छापेमारी करके कई लोग उठाए हैं। - Money Bhaskar
यूपी एटीएस ने गाजियाबाद, मेरठ व बुलंदशहर में छापेमारी करके कई लोग उठाए हैं।

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के मामले में उत्तर प्रदेश आतंकवाद निरोधक दस्ता (ATS) ने गाजियाबाद, मेरठ और बुलंदशहर में रेड मारी है। तीनों जिलों से कुल 9 लोगों को उठाया है। शक है कि ये गैर कानूनी काम कर रहे थे। फिलहाल इन सभी से पूछताछ जारी है।

गाजियाबाद में भोजपुर थाना क्षेत्र के कलछीना गांव में एटीएस ने लोकल पुलिस के साथ छापामार कार्रवाई सोमवार रात करीब ढाई बजे की है। यहां कई घरों से कुल पांच लोगों को उठाया है। हालांकि इनसे क्या बरामद किया है, इस बारे में अभी कोई पुष्टि नहीं है। लोकल पुलिस के अफसर किसी भी तरह की जानकारी से इनकार कर रहे हैं।

एटीएस ने सोमवार रात में ही बुलंदशहर जिले के कस्बा स्याना से एक अधिवक्ता को उठाया है। पता चला है कि ये लंबे समय से पीएफआई से जुड़ा था और मेरठ में पीएफआई दफ्तर पर इसका लगातार आना-जाना था। पीएफआई करीब एक साल से इसकी निगरानी कर रही थी। मेरठ में लिसाड़ी गेट क्षेत्र से दो और सरूरपुर थाना क्षेत्र से एक व्यक्ति को भी एटीएस ने उठाया है।

बीते दिनों भी यूपी एटीएस ने पीएफआई से जुड़े चार लोगों को गिरफ्तार किया था। आरोपी गाजियाबाद, मेरठ, शामली, मुजफ्फरनगर के रहने वाले थे। एटीएस का दावा था कि पीएफआई से जुड़े ये लोग केरल में हथियार चलाने की ट्रेनिंग लेकर आए थे और देश में युद्ध के लिए रणनीति तैयार कर रहे थे।

खबरें और भी हैं...