पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मोदीनगर में एंबुलेंस में गूंजी किलकारी:महिला ने बच्ची को दिया जन्म, दोनों अस्पताल में भर्ती, प्रसव पीड़ा तेज होने पर रोकी गई गाड़ी

मोदीनगर, गाजियाबाद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मोदीनगर में मुरादनगर थाना क्षेत्र में सड़क किनारे खड़ी कर एम्बुलेंस में महिला की डिलीवरी कराई गई। दस मिनट में डिलीवरी कराने के बाद महिला को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। प्रसव पीड़ा तेज होने पर एंबुलेंस कर्मियों ने गाड़ी को रोका था।

गांव खिदौड़ा में राकेश त्यागी पत्नी कोयली, पुत्री मीरा और मां कांति देवी के साथ रहते हैं। राकेश त्यागी की पत्नी कोयली को सोमवार रात प्रसव पीड़ा होने लगी। इसके बाद परिजनों ने गांव की आशा को घर बुलाया। उनके कहने पर एम्बुलेंस बुलाई गई। सूचना देने के दस मिनट बाद ही सोमवार रात 10:50 बजे एम्बुलेंस गांव पहुंच गई। एम्बुलेंस कोयली को लेकर मुरादनगर अस्पताल के लिए निकल पड़ी। महिला के साथ एम्बुलेंस में उसकी सास कांति देवी, आशा कार्यकत्री रेखा और इंमरजेंसी मेडिकल ट्रीटमेंट कर्मचारी शाहनवाज मौजूद थे। जब एम्बुलेंस रावली सुराना मार्ग पर गांव ढिढ़ार पुलिया के पास पहुंची तो महिला प्रसव पीड़ा से कराह उठी। महिला की हालत बिगड़ती देखकर ईएमटी कर्मचारी शाहनवाज ने एम्बुलेंस सड़क किनारे रुकवा ली।

सराहनीय कार्य के लिए कर्मचारी को करेंगे सम्मानित

रात 11:40 बजे के आसपास महिला की डिलीवरी कराई गई। सीएचसी प्रभारी डॉ. प्रदीप यादव ने बताया कि दस मिनट के अंदर सकुशल डिलीवरी हो गई। महिला ने बच्ची को जन्म दिया। इसके बाद जज्चा-बच्चा को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मुरादनगर में भर्ती कराया गया। डॉ. प्रदीप यादव ने बताया कि जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने काफी सराहनीय काम किया है। एम्बुलेंस सेवा के प्रोग्राम मैनेजर जयविंदर सिंह ने बताया कि कर्मचारी शाहनवाज के उत्कृष्ठ कार्य के लिए उन्हें सम्मानित किया जाएगा। यदि शाहनवाज ने रास्ते में डिलीवरी नहीं कराई होती तो महिला की हालत बिगड़ सकती थी।

खबरें और भी हैं...