पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राम मंदिर मॉडल के पंडाल में विराजेंगी मां दुर्गा:36 फीट चौड़ा, 34 फीट ऊचां बनाया जा रहा मंदिर, मुंबई-कोलकाता के कलाकर करेंगे मंचन

नोएडा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अयाेध्या के राम मंदिर की तर्ज पर बनाया जा रहा मां दुर्गा का पंडाल - Money Bhaskar
अयाेध्या के राम मंदिर की तर्ज पर बनाया जा रहा मां दुर्गा का पंडाल

शारदीय नवरात्र में 26 सितंबर से मंदिरों में विधि विधान के साथ शुरू हो चुकी है। नोएडा में 70 से अधिक पंडालों में देवी प्रतिमाएं विराजित की जा रही है। नोएडा के सेक्टर-78 में अयोध्या के श्रीराम मंदिर के प्रतिरूप वाला पंडाल आकर्षण का केंद्र होगा। यहां 1 अक्टूबर से विधि विधान के साथ पूजा अर्चना शुरू की जाएगी। पंडाल सेंट्रल नोएडा पूजा कमिटी की ओर से लगाया जा रहा है।

सेक्टर-78 में तैयार किया जा रहा राम मंदिर
सेक्टर-78 में तैयार किया जा रहा राम मंदिर

कमिटी की अध्यक्ष इंद्राणी मुखर्जी ने बताया कि भगवान श्री राम द्वारा रावण वध से पूर्व आश्विन माह में देवी दुर्गा का अकाल बोधन (असमय आह्वान) किया गया। जिसे हम सनातनी शारदीय दुगोरत्सव के रूप में मनाते हैं। भगवान श्री राम और मां दुर्गा की इस कड़ी को जोड़ते हुए सेक्टर 78 स्थित सेंट्रल नोएडा पूजा कमिटी इस साल अयोध्या श्री राम मंदिर का प्रारूप तैयार कर रही है मां दुर्गा के पंडाल के रूप में। इसका आधार 36 फीट और हाइट 34 फीट का बनाया जा रहा है।

अयोध्या में बन रहे राम मंदिर का मॉडल।
अयोध्या में बन रहे राम मंदिर का मॉडल।

मुरादनगर कार्यशाला में तैयार किया जा रहा प्रारूप...
पश्चिम बंगाल से बुलाई गई विशेष टीम पिछले दो माह से मुरादनगर स्थित कार्यशाला में इसे मूर्त रूप देने का प्रयास कर रही है। पश्चिम बंगाल में चंदन नगर आलोक सज्जा के लिए विख्यात है। वहीं से लोग इसकी सजावट (विशेष लाइटिंग) का काम कर रहे है। उन्होंने बताया कि 2 से 4 अक्टूबर तक पूजन एवं हवन के पश्चात भक्तों के लिए पूजा कमिटी की ओर से भंडारे का आयोजन किया जा रहा है ।

सेंट्रल नोएडा पूजा कमिटी के सदस्य प्रभात फेरी निकालते हुए
सेंट्रल नोएडा पूजा कमिटी के सदस्य प्रभात फेरी निकालते हुए

मुंबई और कोलकाता के कलाकर देंगे प्रस्तुती...
1 से 4 अक्टूबर तक मां दुर्गा की सायं आरती के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इसमें मुंबई एवं कोलकाता से गायक एवं गायिकाएं अपनी प्रस्तुती देंगे।

हवन पूजन करते सांसद डाक्टर महेश शर्मा व विधायक पंकज सिंह
हवन पूजन करते सांसद डाक्टर महेश शर्मा व विधायक पंकज सिंह

गणेश वंदना के साथ शुरू हुआ मंचन...
श्री सनातन धर्म मंदिर राम लीला और श्रीराम मित्र मंडल नोएडा रामलीला समिति द्वारा रामलीला मैदान आयोजित रामलीला मंचन के पहले दिन सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा व विधायक नोएडा पंकज सिंह द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया। रामलीला मंचन की शुरुआत गणेश वंदना एवं पूजन के साथ हुई। गणेश वंदना में कलाकारों ने मनमोहक प्रस्तुति पेश कर दर्शकों का मन मोह लिया।

नारद को हुआ घमंड...
प्रथम दृश्य में देवर्षि नारद को इस बात का घमंड हो गया था कि कामदेव भी उनकी तपस्या व ब्रह्मचर्य भंग नहीं कर पाए। देवर्षि नारद ने यह बात भगवान शंकर को बताई, महादेव ने कहा कि इस बात को भगवान विष्णु के सामने इतने अभिमान के साथ नहीं कहना। शिव के मना करने के बाद भी नारद मुनि ने यह बात भगवान विष्णु को बताई। तब भगवान समझ गए की नारद मुनि में अहंकार आ गया है। इसे खत्म करने के लिए विष्णु ने योजना बनाई।

रामलीला में गणेश वंदना करते बच्चे
रामलीला में गणेश वंदना करते बच्चे

नारद मुनि ने स्वयंवर के लिए मांगा सुंदर स्वरूप ..
नारद मुनि भगवान विष्णु को प्रणाम कर आगे बढ़ गए। रास्ते में नारद मुनि को एक सुन्दर भवन दिखाई दिया। वहां की राजकुमारी के स्वयंवर का आयोजन हो रहा था। राजकुमारी का सुंदर रूप नारद मुनि के तप को भंग कर चुका था। जिस कारण उन्होंने इस स्वयंवर में हिस्सा लेने का मन बना लिया। राजकुमारी को पाने की इच्छा में नारद अपने स्वामी भगवान विष्णु की शरण में पहुंचे और उनसे उनके समान सुंदर रूप पाने की इच्छा जाहिर की।

भगवान विष्णु को दिया श्राप...

भगवान विष्णु ने नारद की इच्छा अनुसार उन्हें रूप भी दे दिया। नारद नहीं जानते थे कि भगवान विष्णु का एक वानर रूप भी है। हरि रूप लेकर नारद उस स्वयंवर मे पहुंच गए। नारद के रूप को देखकर जब सब लोगों ने उनकी हंसी उड़ाई। उन्होंने सरोवर में जाकर अपना चेहरा देखा और उन्हें भगवान विष्णु पर क्रोध आया।

क्रोध के वश में आकर नारद जी ने भगवान विष्णु को श्राप दे दिया और कहा कि जैसे मैं स्त्री के लिए धरती पर व्याकुल था वैसे ही आप भी मनुष्य रूप में जन्म लेकर स्त्री के वियोग से व्याकुल होकर धरती पर भटकेंगे।

खबरें और भी हैं...