पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ग्रेटर नोएडा में सी श्रेणी वाली फर्मों पर होगी कार्रवाई:सीईओ ने फर्मों की तीन श्रेणी बनाई, ए श्रेणी वालों को किया जाएगा सम्मानित

ग्रेटर नोएडाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्रेटर नोएडा में उद्यान कार्यों में लापरवाही बरतने वाली फ़र्मो पर कार्रवाई की जाएगी। कार्यों की गुणवत्ता के आधार पर उद्यान विभाग ने सभी फ़र्मो की तीन श्रेणी बनाई है। यह रिपोर्ट सीईओ को सौंप दी गई है। सीईओ के निर्देश पर खराब काम करने वाली फ़र्मो पर अनुबंध की शर्तों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। वहीं, गुणवत्ता से कार्य करने वाली फ़र्मो को सम्मानित भी किया जाएगा।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ और मंडलायुक्त सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि अच्छा काम करने वाली फ़र्मो को ए श्रेणी में और खराब काम करने वाली फ़र्मो को सी श्रेणी में रखा है। बेहतर काम करने वाली फर्म को बी श्रेणी में रखा गया है। उद्यान विभाग के प्रभारी व वरिष्ठ प्रबंधक कपिल सिंह ने बताया कि आठ कंपनियों को ए श्रेणी में रखा गया है। बी श्रेणी में 15 और श्रेणी में 12 कंपनियों को रखा गया है।

फ़र्मो के 13 मई से 20 मई तक किए गए कार्यों की समीक्षा कर श्रेणी बनाई गई है। यह सूची सीईओ को सौंप दी गई है। उनके निर्देश पर सी श्रेणी की कंपनियों पर अनुबंध की शर्तों के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।

कार्य में लापरवाही बरतने वाली फ़र्मो पर होगी कार्रवाई

बता दें, ग्रेटर नोएडा की हरियाली को और बेहतर बनाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत पार्कों, ग्रीन बेल्ट व रोड साइड ग्रीनरी आदि को दुरुस्त किया जा रहा है। साथ ही जिन फर्मों ने उद्यान का ठेका लेने के बाद कार्यों को अच्छी गुणवत्ता से नहीं किया है‌, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है।

सीईओ सुरेन्द्र सिंह ने चेतावनी दी है कि उद्यान कार्यों का जिम्मा लेने के बाद लापरवाही से काम करने वाली फ़र्मो को बख्शा नहीं जाएगा। गुणवत्तापरक काम न करने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

श्रेणी सी की फर्में-

राजा कंस्ट्रक्शन
सत्वराठी एसोशिएट
विनायक वस्तु डेवलपर्स
मैसर्स सहदेव एंड संस
एचआर कंस्ट्रक्शन
सिद्ध ग्रीन इंटरनेशनल
इंदर सिंह एंड कंपनी
देवा नर्सरी
रवि एसोसिएट्स
वंश एसोसिएट्स
जय दुर्गा कंस्ट्रक्शन
प्लांट्स केयर
खबरें और भी हैं...