पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जेवर एयरपोर्ट से 2023 में उड़ान भरेंगे विमान:​​​​​​​पहले फेज में 1,327 हेक्टेयर में बनेगा एयरपोर्ट; PM के लिए 500 मीटर में बन रहा पंडाल

जेवर (नोएडा)6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली से करीब 75 किलोमीटर दूर यूपी के कस्बा जेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनने जा रहा है। यह एयरपोर्ट करीब 6200 हेक्टेयर जमीन पर बनेगा, जो दुनिया का चौथा बड़ा एयरपोर्ट कहलाएगा। इसके निर्माण पर कुल 29,650 करोड़ रुपए खर्च होंगे। शुरुआत में फर्स्ट फेज का निर्माण 1327 हेक्टेयर जमीन पर होगा। इसमें दो रनवे, दो टर्मिनल बिल्डिंग, एयर ट्रैफिक कंट्रोल टॉवर आदि बनाए जाएंगे।

चार चरणों में बनने वाले इस हवाई अड्डे के पूरे निर्माण का टारगेट साल-2026 रखा गया है। हालांकि यहां से उड़ानों की शुरुआत 2023 तक हो जाएगी। शुरुआत में यहां से आठ घरेलू और एक अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू करने की योजना है। इस हवाई अड्डे की शुरुआती क्षमता 9 करोड़ यात्री सालाना की होगी।

पीएम नरेंद्र मोदी 25 नवंबर को इसकी नींव रखने के लिए जेवर आ रहे हैं। इस दौरान यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे। पहले फेज में 1327 हेक्टेयर पर इस एयरपोर्ट का निर्माण होगा। इस पूरी जमीन की चहारदीवारी का काम लगभग अंतिम चरण में है। अब कार्यक्रम स्थल पर पंडाल लगाने की तैयारियां युद्ध स्तर पर चल रही हैं। 'दैनिक भास्कर' ने ग्राउंड जीरो पर जाकर तैयारियों को परखा।

कार्यक्रम स्थल पर बनाए जा रहे वाटरप्रूफ पंडाल में करीब 40 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था का दावा किया जा रहा है।
कार्यक्रम स्थल पर बनाए जा रहे वाटरप्रूफ पंडाल में करीब 40 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था का दावा किया जा रहा है।

250 मीटर चौड़ा और 250 मीटर लंबा वाटरप्रूफ पंडाल
शिलान्यास कार्यक्रम स्थल बुलंदशहर-जेवर रोड पर रन्हैरा पुलिस चौकी से 200 मीटर दूर सड़क किनारे रखा गया है। यहां पर एक बड़े मैदान में 250 मीटर चौड़ा व 250 मीटर लंबा वाटरप्रूफ पंडाल लगाया जा रहा है। दिल्ली की विज कंसर्ट कंपनी को पंडाल लगाने की जिम्मेदारी मिली है। कार्यक्रम स्थल पर करीब 200 से ज्यादा कर्मचारी कार्यरत हैं जो दिन-रात पंडाल लगाने में जुटे हैं। इन पंडाल में करीब 40 हजार लोगों के बैठने के लिए कुर्सियां लगाई जाएंगी।

प्रस्तावित जेवर एयरपोर्ट की साइट पर यमुना प्राधिकरण ने इस तरह के बोर्ड लगाकर लोगों को जमीन संबंधी इश्यू पर सचेत किया है।
प्रस्तावित जेवर एयरपोर्ट की साइट पर यमुना प्राधिकरण ने इस तरह के बोर्ड लगाकर लोगों को जमीन संबंधी इश्यू पर सचेत किया है।

पूरब दिशा की तरफ रहेगा मुख्य मंच
मुख्य मंच 50 मीटर चौड़ा और 30 मीटर लंबा बनाया जा रहा है। यह मंच सड़क से लगभग सटाकर लगाया जा रहा है। इस मंच की दिशा पूरब की तरफ होगी। यहां से पीएम मोदी, सीएम योगी समेत तमाम नेता कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। कार्यक्रम स्थल के 100 मीटर दूर पूर्व सैनिकों ने अपना डेरा जमाया है, जो यहां की सुरक्षा व्यवस्था संभाल रहे हैं।

ग्रेटर नोएडा में कमिश्नर व यमुना प्राधिकरण सीईओ ने एक बैठक की। इसमें उन्होंने कार्यक्रम की तैयारियों पर विचार-विमर्श किया।
ग्रेटर नोएडा में कमिश्नर व यमुना प्राधिकरण सीईओ ने एक बैठक की। इसमें उन्होंने कार्यक्रम की तैयारियों पर विचार-विमर्श किया।

मुख्य मंच के नजदीक ही एयरपोर्ट की नींव
25 नवंबर के कार्यक्रम को लेकर ग्रेटर नोएडा में सोमवार को महत्वपूर्ण बैठक हुई। मेरठ मंडल कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने बताया कि इस बैठक में कार्यक्रम की तैयारियों पर मंथन हुआ। कमिश्नर के अनुसार, कार्यक्रम स्थल के नजदीक चार हेलीपेड बनाए जा रहे हैं। इसमें तीन हेलीपेड पीएम और एक हेलीपेड सीएम के लिए आरक्षित होगा। कार्यक्रम स्थल पर दो प्रदर्शनी लगाई जाएंगी, जिसमें एयरपोर्ट से जुड़े दो मॉडल रखे जाएंगे। एंट्री गेट बढ़ाने पर मंथन चल रहा है।

कोशिश है कि किसी भी व्यक्ति को अंदर घुसने के लिए एक मिनट से ज्यादा इंतजार न करना पड़े। इस कार्यक्रम में पीएम करीब डेढ़ से दो घंटे तक रहेंगे। मुख्य मंच के नजदीक ही पूजन स्थल बनाया गया है, जहां पर वे ईंट रखकर एयरपोर्ट की आधार शिला रखेंगे।

नोएडा पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने प्रस्तावित जेवर एयरपोर्ट स्थल का दौरा करके पीएम के कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा संबंधी निर्देश दिए।
नोएडा पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने प्रस्तावित जेवर एयरपोर्ट स्थल का दौरा करके पीएम के कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा संबंधी निर्देश दिए।

पांच पार्किंग स्थल
कार्यक्रम स्थल पर पांच पार्किंग स्थल बनाए जा रहे हैं। ये सभी पार्किंग स्थल शिलान्यास स्थल से कम से कम 100 मीटर दूरी पर बनाए जा रहे हैं। रन्हैरा पुलिस चौकी के ठीक पीछे भी एक पार्किंग के लिए बड़े मैदान को समतल बनाने का काम चल रहा है। संभवत: यहां पुलिस से जुड़े वाहनों की पार्किंग होगी। इधर, पुलिस विभाग सुरक्षा को लेकर ब्लूप्रिंट बनाने में जुटा हुआ है। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने एयरपोर्ट स्थल का दौरा कर सुरक्षा संबंधी तैयारियों पर चर्चा की।
एयरपोर्ट से जुड़ी प्रमुख बातें

  • 6200 हेक्टेयर जमीन पर एयरपोर्ट बनेगा
  • 04 चरणों में इसका निर्माण होगा
  • 29650 करोड़ रुपये इस पर खर्च होंगे
  • 2023 में फेज-वन का निर्माण पूरा करना होगा
खबरें और भी हैं...