पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %

फिरोजाबाद में गिरा पक्का मकान...बाल-बाल बचा परिवार:बारिश के चलते गिरा विधवा का घर; विधायक ने कहा- राष्ट्रीय आपदा राहत कोष से दिलाएंगे मदद

फिरोजाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फिरोजाबाद में गिरा पक्का मकान� - Money Bhaskar
फिरोजाबाद में गिरा पक्का मकान�

फिरोजाबाद दक्षिण थाना क्षेत्र में बारिश के चलते एक गरीब विधवा का मकान गिर गया। गनीमत रही कि हादसे में परिवार बाल-बाल बच गया। जहां यह मकान गिरा, उसके बगल में एक खाली प्लाट पड़ा था, जिसमें बारिश से जलभराव हो गया था। हादसे की सूचना पर पहुंचे सदर विधायक ने पीड़िता परिवार की मदद के लिए अधिकारियों को अवगत कराया है।

तीन दिन से लगातार हो रही बारिश

बता दें कि मामला दक्षिण थाना क्षेत्र के कन्हैया नगर का है। यहां की रहने वाली प्रताप श्री पत्नी रामवरन सिंह दो बच्चों के साथ रहती हैं। पति की आठ साल पहले बीमारी के चलते मौत हो गई है। तभी से वह बच्चों की जिम्मेदारी संभाल रही हैं। मेहनत-मजदूरी कर किसी तहर परिवार का पालन-पोषण कर रही हैं। पिछले तीन दिन से शहर में लगातार बारिश हो रही है, जिससे खाली प्लाटों में पानी भर गया है। रविवार को प्रताप श्री किसी काम से बाहर गई थीं। घर पर कोई नहीं था। अचानक उनका मकान भरभरा कर गिर गया। हादसे के बाद आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई। प्रताप श्री भी मौके पर पहुंच गईं।

विधायक मनीष असीजा ने पीड़ित परिवार को दिया मदद का आश्वासन।
विधायक मनीष असीजा ने पीड़ित परिवार को दिया मदद का आश्वासन।

राष्ट्रीय आपदा राहत कोष से दिलाई जाएगी मदद

सूचना पर सदर विधायक मनीष असीजा मौके पर पहुंच गए। उन्होंने कहा कि खाली प्लाट में पानी जमा था, जिससे मकान की नींव में पानी चला गया। कुछ दिनों से बारिश भी लगातार हो रही थी। इसके चलते महिला का मकान धराशाही हुआ है। मकान गिरने की जानकारी अधिकारियों को दे दी गई है। राष्ट्रीय आपदा राहत कोष के तहत महिला को मदद दिलवाने का प्रयास किया जाएगा।

नगर निगम की लापरवाही से भर रहा पानी

वहीं हादसे के बाद अधिकारियों ने भी घटनास्थल का जायजा लिया। क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि वार्ड में जगह-जगह जलभराव की स्थिति है। खाली प्लाटों में पानी भरा हुआ है। इसे नगर निगम द्वारा खाली नहीं कराया जा रहा है। उन्होंंने खली पड़े प्लाटों में भरे पानी को निकलवाए जाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...