पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फतेहपुर में मनरेगा मजदूरों को नहीं मिला काम का पैसा:ग्राम प्रधान कर रहा गाली-गलौज, मजदूरों ने डीएम से की शिकायत

फतेहपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फतेहपुर में मनरेगा योजना के तहत मजदूरी करने के बाद ग्राम प्रधान द्वारा मजदूरों को पैसा नहीं दिया गया। जिसके बाद नाराज मजदूर कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचे। जहां डीएम को एक शिकायती पत्र सौंपा और पैसा दिलाने की मांग की। डीएम ने अधिकारियों को जांच के आदेश दिए हैं।

जिलाधिकारी के नाम एसडीएम को शिकायती पत्र देते हुए मजदूर ज्ञान सिंह,रोहित सिंह चौहान,राजेश कुमार ने आरोप लगाया कि जिले के ऐराया विकास खंड के शोहदमऊ गांव में तालाब की खोदाई व नहर की पटरी पर मिट्टी पुराई का काम किया गया था। जिसमें नहर की मिट्टी पुराई के काम में 16 मजदूर लगे थे। एक लाख 28 हजार के ठेका में 42 हजार मिला था। 86 हजार रुपये नहीं दिया गया।

मजदूरों को नहीं दिया गया मजदूरी का पैसा, जिसके बाद मजदूर कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचे और अपनी समस्या बताई।
मजदूरों को नहीं दिया गया मजदूरी का पैसा, जिसके बाद मजदूर कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचे और अपनी समस्या बताई।

मजदूरों से काम कराकर नहीं दिया गया पैसा
मजदूरों ने बताया कि दूसरा काम तालाब खोदाई था। जिसमें 1 लाख 10 हजार रुपये में 25 हजार मिला और 85 हजार बाकी है। पैसा मांगने पर गाली गलौज किया जाता है। हमारी मांग है कि हमारे मेहनत का पैसा दिलाया जाए। इस मामले में अपर जिलाधिकारी विनय पाठक ने जांच का आदेश दिया है।

खबरें और भी हैं...