पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57276.94-1 %
  • NIFTY17110.15-0.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48432-0.52 %
  • SILVER(MCX 1 KG)62988-1.1 %

फतेहपुर में एसपी ने पुलिसकर्मियों पर एक्शन:भाजपा नेता पर हमले के मामले में सपा नेता के गनर को किया सस्पेंड, चौकी इंचार्ज को किया लाइन हाजिर

फतेहपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फतेहपुर में एसपी व कार्यकर्ताओं संग धरने पर बैठे भाजपा विधायक। - Money Bhaskar
फतेहपुर में एसपी व कार्यकर्ताओं संग धरने पर बैठे भाजपा विधायक।

फतेहपुर में सपा नेता ने अपने साथियों के साथ मिलकर भाजपा नेता पर हमला किया था। जिसके बाद भाजपा विधायक आरोपियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। जिसके बाद एसपी ने सपा नेता के गनर को सस्पेंड करते हुए चौकी इंचार्ज को लाइन हाजिर कर दिया है। बाद में विधायक को डीएम ने कार्रवाई का आश्वासन देकर उनका धरना खत्म करवाया।

कोतवाली में कार्यकर्ताओं संग धरने पर बैठे विधायक

जिले में सोमवार को जिला अस्पताल के सामने भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश मीडिया प्रभारी फैजान रिजवी पर सदर नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष प्रतिनिधि व सपा नेता हजीरजा ने साथियों के साथ मिलकर दिन में 4 बजे के आस पास बीच सड़क पर जानलेवा हमला कर दिया था। इस मामले को लेकर सदर से बीजेपी के विधायक विक्रम सिंह सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग को लेकर सदर कोतवाली में कार्यकर्ताओं संग धरना पर बैठ गए थे। साथ ही सीसीटीवी कैमरे के वीडियो के आधार पर पुलिस को कार्यवाही की बात कही।

पुलिस ने 5 नामजद व 20 अज्ञात के खिलाफ दर्ज किया केस

जिस पर पुलिस ने भाजपा नेता फैजन रिजीवी की तहरीर पर हजीरजा सहित पांच नामजद व 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ डकैत,लूट सहित कई संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। लेकिन बीजेपी विधायक सभी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कोतवाली से धरना खत्म करने से मना कर दिया। यह हाई प्रोफाइल ड्रामा करीब रात 2 बजे के बाद डीएम अपूर्वा दुबे व एसपी राजेश कुमार सिंह कोतवाली पहुंचे। सभी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के साथ जल्द गिरफ्तारी का भरोसा देने के बाद विधायक ने धरना खत्म कर दिया।

एसपी ने एक आरोपी की गिरफ्तारी की कही बात

वहीं एसपी राजेश कुमार सिंह ने इस मामले में लापरवाही बरतने पर सदर अस्पताल चौकी प्रभारी प्रेम नारायण को लाइन हाजिर कर दिया। साथ ही सपा नेता के सरकारी गनर को सस्पेंड करते हुए प्रयागराज मंडल के एडीजी को दोनों को निलंबित की कार्यवाही को पत्र लिखा है। और एक अभियुक्त की गिरफ्तारी की जानकारी दी।