पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60296.5-0.75 %
  • NIFTY18079.55-0.18 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47943-0.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61414-0.3 %

फर्रुखाबाद में पुलिस ने माना… जेल में चली थी गोली:छीना-झपटी में हो गया था फायर, सीओ ने बंदियों पर दर्ज कराई एफआईआर

फर्रुखाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फर्रुखाबाद में मरीज की मौत से भड़के कैदियों ने जेल में की थी आगजनी। - Money Bhaskar
फर्रुखाबाद में मरीज की मौत से भड़के कैदियों ने जेल में की थी आगजनी।

फर्रुखाबाद में हुई जेल हिंसा में पुलिस ने यह मान लिया है कि छीना-झपटी के दौरान गोली चली थी। सीओ ने बंदियों पर दर्ज करवाई गई एफआईआर में बताया कि पुलिसकर्मी से हथियार छीनने की कोशिश बंदी कर रहे थे। उसी वक्त गोली चल गई। जिससे शिवम नाम का बंदी घायल हो गया। उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई है।

मरीज की मौत से भड़के थे बंदी
जिले की जेल में 2012 से दहेज हत्या के मामले में संदीप यादव सजा काट रहा था। उसे 2016 में अजीवन कारावास की सजा सुना दी गई थी। 5 नवंबर को उसे डेंगू की शिकायत के चलते उसे सैफई रेफर कर दिया गया था। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इसी बात के चलते 7 नवंबर को जेल में बंद कैदी भड़क गए। वह लोग जेल में आगजनी करने लग गए। जेल के अंदर से गोली चलने की भी आवाज आने लग गई।

पहले पुलिस ने नकारी गोली चलने की बात
मामले की जानकारी होने पर डीएम-एसपी समेत कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गईं। जानकारी के मुताबिक, बंदियों ने एक पुलिसकर्मी से उसका सरकारी हथियार छीनने व उसे जान से मारने की कोशिश की थी। हथियार की छीना-झपटी में गोली चल गई। जिससे शिवम नाम का एक बंदी घायल हो गया। उसे भी सैफई रेफर किया गया। जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

सीओ ने बंदियों पर दर्ज करवाई एफआईआर
इस मामले में सीओ प्रदीप कुमार ने सैकड़ों बंदियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है। जिसमें उन्होंने बताया कि हथियार की छीना-झपटी में गोली चल गई थी।

खबरें और भी हैं...