पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फर्रुखाबाद में भाजपा सभासद के साथ मारपीट:पुलिसकर्मियों ने बीच सड़क जड़े थप्पड़, आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने जाम लगाया, 2 एसआई लाइन हाजिर

फर्रुखाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फर्रुखाबाद में चेकिंग के दौरान भाजपा सभासद के साथ पुलिस ने मारपीट की। बताया जा रहा है कि सभासद के बेटे की बाइक का चालान काट दिया था। सभासद जब इसकी जानाकरी लेने गए तो पुलिसकर्मियों ने नशे में धुत होकर उनको जमकर पीटा। घटना से आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ताओं ने कानपुर-फर्रुखाबाद रोड पर जाम लगाकर हंगामा किया।

साथ ही पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। लखनऊ वापस लौट रहे कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह का जाम में फंस गए। उन्होंने समझा-बुझाकर किसी तरह से कार्यकर्ताओं को शांत कराया। उधर, एसपी ने मामले में दो एसआई को लाइन हाजिर कर दिया है।

आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने जाम लगाकर हंगामा किया।
आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने जाम लगाकर हंगामा किया।

बुधवार शाम कमालगंज कस्बा में थाने पुलिस चेकिंग कर रही थी। इस दौरान सभासद शिवकुमार उर्फ पप्पू हलवाई के बेटे की बाइक का पुलिस ने चालान काट दिया। सभासद शिव कुमार ने बताया कि जब वह चालान के बारे में जानकारी लेने गए तो पुलिसकर्मियों ने उनको थप्पड़ मार दिया। उन्होंने बताया कि वह कैंसर से पीड़ित हैं। पुलिस ने उनके साथ गलत व्यवहार किया।

पुलिस के समझाने के बाद कार्यकर्ता शांत नहीं हुए।
पुलिस के समझाने के बाद कार्यकर्ता शांत नहीं हुए।

पुलिस-प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए
उधर सूचना मिलते ही भाजपा समर्थक और कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे। सभी ने जाम लगाकर हंगामा और प्रदर्शन शुरू कर दिया। लोगों ने पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए।मामले की जानकारी पर सांसद मुकेश राजपूत, भोजपुर विधायक नागेंद्र सिंह राठौर, भाजपा जिलाध्यक्ष रूपेश गुप्ता भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कार्रवाई की मांग पर अड़ गए।

कार्यकर्ताओं को समझाते पुलिसकमीं।
कार्यकर्ताओं को समझाते पुलिसकमीं।

मंत्री के आश्वासन पर शांत हुआ मामला
जाम में पशुधन मंत्री धर्मवीर सिंह का काफिला भी फंस गया। भाजपा पदाधिकारियों ने थाना पुलिस की शिकायत मंत्री से की। मंत्री के आश्वासन के बाद सभी शांत हुए। वहीं मामले की जानकारी पर एसपी अशोक कुमार मीणा ने उपनिरीक्षक मिथलेश और उपनिरीक्षक हेमंत को लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं दोनों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की बात कही है। उन्होंने अल्कोहल की जांच के लिए दोनों को सीओ अमृतपुर के साथ लोहिया अस्पताल भेजा है।

खबरें और भी हैं...