पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

2,798 घरों का बिजली बिल जीरो:फर्रुखाबाद में 10,443 घरों में सिर्फ 10 यूनिट ही बिजली खर्च, मीटर रीडिंग देख विभाग हैरान

फर्रुखाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फर्रुखाबाद में इन दिनों भीषण गर्मी से लोग बेहाल हैं। पंखा-कूलर तक राहत नहीं दे पा रहे हैं। ऐसे में शहर में 2,798 घरों में न तो पंखा चलता है और न ही कोई बल्ब जलता है। इन उपभोक्ताओं के घरों में लगे मीटरों में भी शून्य यूनिट बिजली की खपत आ रही है।

वहीं 10,443 घरों में सिर्फ 10 यूनिट बिजली की खपत हो रही है। ऐसे बिलों को देखकर अधिकारियों के पसीने छूट रहे हैं। बिलिंग एजेंसी और ऐसे उपभोक्ताओं पर शिकंजा कसने की तैयारी की जा रही है।

शहर में 67,870 बिजली उपभोक्ता हैं। इनके यहां लगे मीटर में आने वाली रीडिंग से बिल बनाए जाते हैं। बिलिंग एजेंसी के कर्मचारियों ने अप्रैल में उपभोक्ताओं को रीडिंग के बिल बनाकर दिए। इसका डाटा देखकर अधिकारी हैरान हैं। 2,798 उपभोक्ताओं के बिल शून्य रीडिंग के बने हैं। रीडिंग के मुताबिक, इन उपभोक्ताओं के घरों में गर्मी में एक दिन भी पंखा नहीं चला और न ही किसी वक्त बल्ब जलाया गया।

10,443 उपभोक्ताओं के बिल एक से 10 यूनिट तक ही बने हैं। इन घरों में सिर्फ बल्ब ही जलाया गया है। 9,354 उपभोक्ताओं के बिल 10 से 25 यूनिट, 12,939 घरों के बिल 25 से 50 यूनिट, 9,285 घरों के 50 से 75 यूनिट तक और 24,989 उपभोक्ताओं के बिल 75 यूनिट से अधिक के बने हैं। शून्य और कम यूनिट के बिल बनने से बिलिंग एजेंसी के कर्मचारी और उपभोक्ता संदेह के घेरे में आ गए हैं।

जानें क्या बोले जिम्मेदार
एक्सईएन शहरी आरबी यादव ने बताया, शून्य और कम यूनिट के जो बिल बने हैं, उन उपभोक्ताओं के घरों की रीडिंग जांची जाएगी। यदि मीटर सही चलता मिला तो बिलिंग एजेंसी के कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बिजली चोरी मिली तो उपभोक्ता के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।

खबरें और भी हैं...